इस MS Dhoni को नई पीढ़ी याद करे मैं नहीं चाहता’, अजय जडेजा ने क्यों कहा ऐसा जानिए

आइपीएल 2020 में MS Dhoni जरा बदले-बदले से नजर आ रहे हैं। 14 महीनों के बाद क्रिकेट के मैदान पर वापसी करना आसान नहीं होता है और इसका असर धौनी पर साफ दिख रहा है। एम एस की कप्तानी में सीएसके तीन में से दो मैच गंवा चुकी है और उनकी बल्लेबाजी भी कुछ खास नहीं रही है। एक तरफ जहां कप्तान के तौर पर धौनी के फैसलों पर सवाल उठ रहे हैं तो वहीं उनकी बल्लेबाजी क्रम को लेकर भी उनकी खूब आलोचना हुई।

39 साल के धौनी एक महान खिलाड़ी हैं और उन्होंने अपने क्रिकेट करियर में वो सबकुछ हासिल किया है जो किसी भी खिलाड़ी या कप्तान की तमन्ना होती है। धौनी ने आइपीएल 2020 से ठीक पहले इंटरनेशनल क्रिकेट से रिटायरमेंट की घोषणा कर दी थी और इसके बाद फैंस उन्हें एक नए अवतार में देखना चाह रहे थे, लेेकिन आइपीएल में अब तक तो ऐसा नहीं हो पाया हैै। अब टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी अजय जडेजा ने गौरव कपूर से एक इंटरव्यू में बात करते हुए एम एस के नंबर छह पर उतरने पर अफसोस जाहिर किया और कहा कि, पीछे से लड़ते हुए कोई लड़ाई नहीं जीती जाती।

अजय जडेजा ने कहा कि मैं धौनी की बल्लेबाजी पोजिशन को लेकर खुश नहीं हूं। आप पीछे से लड़ते हुए किसी भी लड़ाई को नहीं जीत सकते। मुझे लगता है कि क्रिकेट में जो फ्रंट पर आकर लड़ता है उसके जीतने की संभावना ज्यादा होती है। अगर आपके सैनिक आपके लिए लड़कर जीत हासिल करते हैं और आप रणनीति बनाते हैं तो ये अलग बात होती है, लेकिन यहां पर दूसरा केस है।

जडेजा ने कहा कि जो धौनी को जानते हैं और उन्हें खेलता देख चुके हैं वो उन्हें उनकी नायाब कामयाबियों के लिए याद रखेंगे, लेकिन नई जनरेशन जिसने क्रिकेट देखना शुरू किया है वो एम एस धौनी को लेकर कुछ और राय बना लेंगे। उन्होंने कहा कि धौनी ने टीम इंडिया के संन्यास ले लिया, लेकिन वो सीएसके की कप्तानी कर रहे हैं। अब कि जो जनरेशन क्रिकेट देख रही है वो उस धौनी को याद करेगी जैसा वो स्क्रीन पर दिख रहे हैं। अब उस महान क्रिकेटर के बारे में उन्हें जो बताया गया है और वो उससे अलग दिख रहे हैं जो काफी दुखद है। मैं नहीं चाहता कि इस एम एस धौनी को नई पीढ़ी उनके खराब प्रदर्शन के लिए याद करे।

SHARE