बिहार और असम के बाढ़ पीड़ितों की मदद को सोसायटी के बाशिंदों ने शुरू किया दवा बैंक

    देश जहां कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई लड़ रहा है। वहीं, महामारी के साथ-साथ बिहार और असम जैसे राज्यों को एक और मुसीबत ने घेर लिया है। यहां बाढ़ के कारण लोगों का जीना मुश्किल हो गया है। इस बीच इनकी मदद के लिए दिल्ली से सटे नोएडा की हाइराइज सोसायटियों के करीब 60 लोग आगे आए हैं। सेवन एक्स वेलफेयर टीम की ओर से दवा बैंक की शुरूआत की गई है।

    इसके जरिए छह सोसायटियों से साधारण बीमारियों के लिए आवश्यक दवाइयां एकत्र कर बाढ़ से प्रभावित राज्यों को भेजी जा रही है। ट्विटर के माध्यम से भी लोग लगातार इस मुहिम से जुड़ रहे है।

    सुरक्षा गार्ड के पास एकत्रित की जाती है दवाइयां

    सेवन एक्स वेलफेयर टीम के सदस्य गिरीराज बहेडिया ने बताया कि बाढ़ पीड़ितों को जल्द से जल्द मदद पहुंचाने के उद्देश्य से सोसायटियों के निवासियों ने दवा बैंक की पहल शुरू की है। टीम ने दवा के जरिए बाढ़ पीड़ितों के जख्मों पर मरहम लगाने की ठानी है। सोसायटियों के लोग दवाइयां गेट पर सुरक्षा गार्ड के पास बॉक्स में रखते है। इसके बाद टीम के सदस्यों द्वारा हर सोसायटी से एकत्रित की जाती है।

    दवा बैंक में ये दवाइयां है शामिल

    दवा बैंक में बुखार, खासी, चर्म रोग, चोट लगने के दवा, डायरिया, एंटीबायोटिक, स्किन ऑइंटमेंट, लिवर सिरप की दवाइयां शामिल है। दवाइयां एकत्रित करते समय इस बात का भी ध्यान रखा जाता है कि ये साधारण बीमारियों के लिए हो, साथ ही एक्सपायरी डेट देखी जाती है। नोएडा प्राधिकरण के वरिष्ठ प्रबंधक मुकेश कुमार वैश्य भी इस मुहिम से जुड़े है।

    65 किलो का दवा बॉक्स डाक से मोरीगांव भेजा

    सोसायटी के निवासियों ने डाक के जरिए असम के मोरीगांव में 65 किलो का दवा का बॉक्स भिजवाया है। सेक्टर-110 स्थित लोटस पनाचे सोसायटी के रहने वाले रिटायर्ड डॉ. पीआर पात्रा वहां अपनी टीम के साथ पीड़ितों को दवा बांटेगे। वह पहले असम में चिकित्सा विभाग में जॉइंट डायरेक्टर के पद पर तैनात थे। सेवानिवृत होने के बाद उन्होंने बुजुर्गों की एक संस्था बनाई है, जो जरूरतमंदों की मदद के लिए काम कर रही है।

    ये सोसायटियां दें रही सहयोग

    • सेक्टर-110 स्थित लोटस पनाचे सोसायटी
    • सेक्टर-78 स्थित एसोटेक विंडसर कोर्ट सोसायटी
    • सेक्टर-78 अंतरिक्ष गोल्फ व्यू- 1 और 2
    • सेक्टर-52 स्थित शताब्दी विहार
    • सेक्टर-106 स्थित एटीएस वन हैमलेट
    SHARE