सीवर में 4 मजदूरों की मौत, दो बाहर नहीं आए थे तो उन्हें तलाशने गए थे दो साथी


बुधवार को सीवर में उतरे चार मजदूरों की मौत हो गई। पहले दो मजदूर सीवर में उतरे थे। काफी देर तक जब वह बाहर नहीं आए तो उन्हें देखने एक के बाद एक दो और मजदूर सीवर में उतरे। बाद में चारों के शव सीवर से बाहर निकाले गए। शहर में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत मनवाखेड़ा में सीवर लाइन डालने का काम चल रहा है।

जानकारी के मुताबिक, दो मजदूर जब सीवर से बाहर नहीं आए तो उन्हें देखने के लिए के लिए एक और मजदूर सीवर चैंबर में उतरा। वह भी काफी देर तक नहीं आया तो वहां मौजूद मजदूरों ने हल्ला मचाना शुरू कर दिया। यह देखकर वहीं काम कर रहा एक जेसीबी चालक मदद के लिए उतर गया।

चारों जब बाहर नहीं आए तो फिर पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने सिविल डिफेंस टीम को बुलाया। इसके बाद चारों शवों को निकाला गया। माना जा रहा है कि सीवर लाइन के अंदर दम घुटने से मौत हुई। हालांकि, सीवर में बिजली की केबिल भी जा रही थी। ऐसे में करंट लगने से भी मौत की आशंका व्यक्त की जा रही है।

गाजियाबाद में भी गई थी पांच की जान

कुछ दिन पहले ही उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में सीवेज साफ करते समय पांच सफाई कर्मियों की दम घुटने से मौत हो गई थी।