चक्रवात ओखी के कारण 531 मछुआरे बचाए गए : मुख्यमंत्री पिनराई विजयन



केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने शनिवार को कहा कि चक्रवात ओखी के कारण केरल और लक्षद्वीप तट के पास समुद्र में फंसे 531 मछुआरों को बचाया गया है।

विजयन ने कहा कि केरल से अब तक 393 लोगों को बचाया गया है। राज्य सरकार ने तूफान में मारे गए लोगों के परिजन को 10 लाख रूपये मुआवजा देने की घोषणा की है।

विजयन ने संवाददाताओं से कहा कि बचाए गए 132 मछुआरे राज्य की राजधानी तिरूवनंतपुरम के, 66 कोझिकोड के, 55 कोल्लम के, 40 त्रिसूर के और 100 कन्याकुमारी के हैं। उन्होंने कहा कि इसके अलावा 138 मछुआरों को लक्षद्वीप द्वीपसमूह से बचाया गया।

विजयन ने कहा कि 10 लाख रूपये का मुआवजा मत्स्य विभाग द्वारा चार लाख रूपये की वित्तीय सहायता के अतिरिक्त होगा। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि लक्षद्वीप के 10 द्वीपों में 31 राहत शिविर खोले गए हैं । अब तक 1047 लोगों को राहत शिविरों तक पहुंचाया गया।