73 बूथों पर दोबारा वोटिंग पूरी, कल आएंगे नतीजे



  • कैराना, भंडारा-गोंदिया और नगालैंड के कुल 123 बूथों पर दोबारा वोटिंग खत्म
  • वीवीपैट-ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतों के बाद कराई गई दोबारा वोटिंग
  • 28 मई को उपचुनाव के लिए वोटिंग के दौरान आई थी ईवीएम-वीवीपैट में गड़बड़ी की शिकायतें

वोटिंग खत्म, कल आएंगे नतीजे

वीवीपैट मशीनों की गड़बड़ी की वजह से कैराना के 73 बूथों पर हुई वोटिंग खत्म हो चुकी है. 61 फीसदी लोगों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया. कैराना, भंडारा-गोंदिया, पालघर और नगालैंड की एक लोकसभा सीट पर हुए वोटिंग के नतीजे गुरुवार को आएंगे.

कैराना उपचुनाव: 3 बजे तक 48 फीसदी वोटिंग

उत्तर प्रदेश की कैराना लोकसभा सीट पर बुधवार को हुए दोबारा वोटिंग में दोपहर 3 बजे तक करीब 48 फीसदी वोट पड़े. चुनाव आयोग ने बीते सोमवार को हुए उपचुनाव में वोटिंग के दौरान वीवीपैट मशीनों में गड़बड़ी की शिकायतों को देखते हुए कैराना लोकसभा सीट के 73 वोटिंग सेंटर पर दोबारा वोटिंग का फैसला किया था.

कैराना उपचुनावः सुबह 11 बजे तक हुआ 37 फीसदी मतदान

कैराना लोकसभा क्षेत्र के 73 पोलिंग बूथों पर वोटिंग जारी है. सुबह 11 बजे तक कुल 38.73 फीसदी वोटिंग रिकॉर्ड की गई. वोटिंग को लेकर महिलाओं में जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है.

कैराना लोकसभा सीट के लिए सहारनपुर के 68 और शामली के 5 बूथों पर बुधवार सुबह 7 बजे दोबारा वोटिंग शुरू हुई. भीषण गर्मी को देखते हुए लोग सुबह-सुबह मतदान करने के लिए घरों से निकल आए. मतदान का समय सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक है.

कैराना में दोबारा वोटिंग के लिए 500 अतिरिक्ट वीवीपैट

कैराना के 73 बूथों पर दोबारा वोटिंग के लिये आयोग की तरफ से 500 अतिरिक्त वीवीपैट मशीनें उपलब्ध कराई गई हैं. साथ ही इनमें किसी भी तरह की संभावित गड़बड़ी को यथाशीघ्र दुरुस्त करने के लिये आयोग की ओर से 20 अतिरिक्त इंजीनियर भी तैनात किए गए हैं.

आयोग के प्रमुख सचिव अनुज जयपुरियार ने उत्तर प्रदेश के मुख्य चुनाव अधिकारी को कैराना में नकुड़ विधानसभा क्षेत्र के 23, गंगोह विधानसभा क्षेत्र के 45, थानाभवन विधानसभा क्षेत्र के एक और शामली के चार पोलिंग बूथों पर दोबारा वोटिंग कराने को कहा है.

बता दें 28 मई को हुई वोटिंग के दौरान कैराना सीट पर लगभग 21 फीसदी वीवीपैट मशीनों में गड़बड़ी के कारण वोटिंग बाधित होने की शिकायतें दर्ज की गई थीं. मशीनों में गड़बड़ी की भारी मात्रा में शिकायतों का हवाला देते हुये एसपी नेता रामगोपाल यादव , आरएलडी अध्यक्ष अजीत सिंह और कांग्रेस के आरपीएन सिंह ने आयोग से चिन्हित पोलिंग बूथों पर दोबारा वोटिंग कराने की मांग की थी.