करोड़ों के घपला करने वाले आरोपी शिक्षक ने कोर्ट में सरेंडर किया


श्री गंगानगर। करोड़ों रूपए के घपले के आरोपी शारीरिक शिक्षक ओम प्रकाश शर्मा ने रविवार को न्यायालय में समर्पण कर दिया। अपने वकील के जरिए आरोपी ओम प्रकाश शर्मा ने अतिरिक्त्त सिविल न्यायधीश संख्या 1 में समर्पण कर दिया।

इस बारे में पूछे जाने पर ओम प्रकाश ने कहा कि उसे मीडिया के जरिए घपले की खबर मिली है। इसके अलावा उसने कुछ भी कहने से मना कर दिया। आरोपी के वकील कुलविंदर सिंह ने कहा कि उन्होंने पुलिस से इस बारे में दर्ज मामले की एफआईआर की कॉपी मांगी है। इसके बाद ही वे आगे कुछ कह पाएंगे।

गौरतलब है कि आरोपी शारीरिक शिक्षक ओम प्रकाश शर्मा पिछले 10 सालों से ब्लॉक शिक्षा अधिकारी कार्यालय श्रीगंगानगर में प्रतिनियुक्ति पर पदस्थापित था। इस दौरान उसने रिटायर्ड सरकारी अधिकारियों-कर्मचारियों के उपार्जित अवकाश की राशि को अपने चहेतों के खातों में डलवा कर लगभग 5 सालों के दौरान करोड़ों का गबन कर सरकारी धन को नुकसान पहुंचाया।

आरोपी व उसके चहेतों के 200 बैंक खाते हो चुके हैं फ्रीज

इस बारे में विभाग को जानकारी मिलने पर तुरंत ही आरोपी शिक्षक के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई गई तथा बीकानेर शिक्षा निदेशालय द्वारा जांच शुरू की गई। आरोपी व उसके चहेतों के अभी तक 200 खाते फ्रीज किए जा चुके हैं। लगातार बढ़ते दबाव के चलते आरोपी शिक्षक ने समर्पण कर दिया। न्यायालय ने जांच अधिकारी को तलब कर इस बारे में केस डायरी मांगी है।