एक हथियारबंद युवक ने महिला के साथ दुष्कर्म करने के बाद बेचा, बेंगलुरु से बरामद

चित्तौड़गढ़ जिले के कपासन थाना क्षेत्र में एक हथियारबंद युवक के महिला के साथ दुष्कर्म करने के बाद उसे बेचने का मामला सामने आया हैं। पीड़िता के अपने बहनोई को किए फोन के बाद खुलासा हो पाया। जिसके बाद पुलिस ने पीड़िता को बैंगलुरु से बरामद कर लिया। उपखंड अधिकारी के समक्ष बुधवार को पीड़िता के बयान करवाए गए।

पीड़िता ने अपने बयानों में बताया कि पति से तलाक के बाद वह परिवार सहित कपासन क्षेत्र में रहकर एक माइन्स में मजदूरी करने लगी। उसी दौरान उसकी पहचान कपासन के किराना दुकानदार चैना उर्फ राजू नायक से हो गई। इसी दौरान एक दिन चैना उसे चित्तौड़गढ़ की एक होटल में ले आया। जहां बंदूक की नोक पर कई दिनों तक बंदी बनाकर रखा और उसके साथ दुष्कर्म किया। बाद में उसे भीलवाड़ा ले गया और किराए के कमरे में बंदी बनाकर रखा।

कुछ दिन बाद उसे पाली के एक परिवार को दो लाख में बेच दिया। खरीदारों में दौलत सिंह राजपुरोहित, उसकी पत्नी धापू व बेटे कानजी शामिल हैं। पाली में उसे अपने घर एक महीने तक रखा और भीम नामक लड़के से पैसे लेकर शादी करवा दी। जो उसे बेंगलुरु ले गया। इसी बीच मौका पाकर पीड़िता ने अपने बहनोई को फोन कर घटनाक्रम की जानकारी दी। तब पीड़िता के बहनोई ने रायगढ़ थानाधिकारी को जानकारी दी। थाना अधिकारी नारायण सिंह ने पुलिस की टीम बेंगलुरु भेजी और पीड़िता को बरामद कर रायगढ़ लाया गया था। रायपुर थाने में जीरो की एफआइआर काटी गई और मामला कपासन में दर्ज हुआ। पुलिस अब आरोपियों की तलाश में जुटी है।

 

SHARE