निकोटिन व मिनरल आयल युक्त पान मसाला और खुशबू सुपारी पर रोक


मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर प्रदेश में तंबाकू उत्पादों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है। कांग्रेस सरकार ने अपने जन घोषणा पत्र में तंबाकू पर प्रतिबंध की बात कही थी जिसका गजट नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया गया है।

सरकार ने इनको खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत प्रतिबंधित किया है। राजस्थान में हर साल हजारों लोग तंबाकू के सेवन से कैंसर की गिरफ्त में आकर जान भी गंवा देते है। मैग्निशियम कार्बोनेट निकोटिन तंबाकू, मिनरल ऑयल युक्त पान मसाला और फ्लेवर्ड सुपारी के उत्पादन, स्टोरेज और वितरण पर रोक लगाई गई है।

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस ने अपने जन घोषणा पत्र में भी तंबाकू पर रोक लगाने की बात की थी। चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने इस बात की घोषणा कर दी है। चिकित्सा विभाग के निदेशक (जन स्वास्थ्य) डॉ.के.के. शर्मा का कहना है कि इससे हर साल कैंसर बीमारी की गिरफ्त में आने वालों पर नियंत्रण होगा। इधर, एसएमएस अस्पताल के ईएनटी विभाग के डॉ. पवन सिंघल का कहना है कि हर साल तंबाकू के सेवन से राजस्थान में होने वाली 70 हजारों मौतों पर नियंत्रण होगा।