‘कश्मीर हमारा है…फिर आएंगे’ के नारों से बाइक सवारों ने फैलाई सनसनी


सिंधी कॉलोनी क्षेत्र में सोमवार रात को बाइक पर सवार होकर आए युवकों ने ‘कश्मीर हमारा है’, फिर आएंगे’ नारे लगाते हुए हवाई फायर किया और मौके से फरार हो गए। घटना के बाद लोगों में दहशत फैल गई। सूचना पर मदनगंज थाना पुलिस ने पहुंचकर पास ही दुकान में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले। फुटेज में घटना कैद हो गई। इधर, खबर मिलते ही जनप्रतिनिधि और हिंदूवादी संगठनों के पदाधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस को मौके से लोहे की एंगल मिली है। माना जा रहा है कि युवकों ने उसी एंगल में पटाखा लगाकर हवा में फायर किया है।

जानकारी के अनुसार सिंधी कॉलोनी में मुख्य रोड से होते हुए रात 8.15 बजे के आसपास तीन बाइक पर करीब छह युवक सवार होकर आए। सिंधी धर्मशाला के पास तीनों बाइक रोककर युवक नारेबाजी करने लगे। आरोप है कि इस दौरान युवकों ने केंद्र सरकार द्वारा धारा 370 हटाने को लेकर कश्मीर हमारा है’, फिर आएंगे’ नारेबाजी की। इसके बाद बाइक पर पीछे की ओर बैठे युवक ने हवा में हाथ उठाकर एक फायर किया और नारेबाजी करते हुए फरार हो गए। अचानक तेज धमाके और नारेबाजी से मोहल्लेवासियों में दहशत फैल गई। देखते ही देखते काफी संख्या में लोग जमा हो गए। सूचना पर भाजपा नेता विकास चौधरी, अभिषेक शर्मा, लक्ष्मीनारायण सोनगरा सहित अन्य लोग मौके पर पहुंच गए और घटना की सूचना पुलिस को दी। सूचना पर मदनगंज थाना प्रभारी राजेंद्र खंडेलवाल मय जाप्ता पहुंच गए और लोगाें से घटना की जानकारी ली।

सिंधी कॉलोनी में बाइक पर सवार युवकों द्वारा नारेबाजी करने और हवाई फायर की जानकारी मिली है। सीसीटीवी में घटना कैद हो गई। मौके से लोहे की एंगल मिली है। -राजेंद्र खंडेलवाल, थाना प्रभारी, मदनगंज थाना

बाइक नंबर और युवक के चेहरे नजर नहीं आ रहे
पुलिस ने कम्प्यूटर हार्डवेयर की दुकान के बाहर लगे सीसीटीवी की रिकॉर्डिंग खंगाली। रिकॉर्डिंग में 8.15 बजे के आसपास तीन बाइक पर सवार छह युवक सिंधी धर्मशाला के पास रुके हुए नजर आ रहे हैं। बाइक के नंबर और युवकों का चेहरा नजर नहीं आ रहा है।

दहशत फैलाना था मकसद | यह माना जा रहा है कि लोहे की एंगल में पटाखा फंसाकर छोड़ा गया। लोहे की एंगल की वजह से रॉकेट की तरह पटाखा निकला और तेज आवाज हुई। इसके बाद युवक एंगल फेंककर भाग गए। पुलिस ने एंगल जब्त कर ली। घटना को देखकर लगता है कि युवक मोहल्ले में दहशत फैलाने के मकसद से अाए थे, ताकि माहौल खराब हो।