कांग्रेस का एजेंडा केवल मेरा विरोध करना है : मोदी



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि कांग्रेस का एजेंजा केवल उनका विरोध करना है। उन्होंने संसद के बजट सत्र के दौरान बाधा डालने के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया। मोदी ने 12 मई को राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा के समर्थन के आयोजित चुनावी रैली में कहा, “कांग्रेस का एजेंडा केवल मेरा विरोध और मेरी आलोचना करना है, इसीलिए उसने संसद को चलने तक नहीं दिया।”

उन्होंने कहा, “कांग्रेस के अंदर लूट का इको-सिस्टम बना हुआ है, जिसपर हमारी सरकार ने सख्ती से प्रहार किया है। इसलिए आश्चर्य नहीं कि कांग्रेस मुझसे नाराज है और इसके नेता मुझे अपशब्द कह रहे हैं।”

बेंगलुरू से 470 किलोमीटर उत्तर में राज्य के उत्तरी हिस्से से चुनाव लड़ रहे पार्टी के उम्मीदवार के लिए प्रचार करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस को देश के सामने साफ कराा चाहिए कि उसने संसद की कार्यवाही में बाधा क्यों डाली।

मोदी ने दावा किया कि कांग्रेस की दलित व पिछड़ा विरोधी मानसिकता ही अवरोध का कारण बनी, क्योंकि वह नहीं चाहती थी कि अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) आयोग बने।

सूखा प्रभावित जिले में बड़ी संख्या में आए लोगों को संबोधित करते हुए मोदी ने कांग्रेस सरकार से कहा कि वह राज्य में अपने किए कार्यो का ब्यौरा दे।

प्रधानमंत्री ने कहा, “कांग्रेस नेता मुझे अपशब्द और मेरी आलोचना कहते रहते हैं। कर्नाटक सरकार को राज्य के लोगों को बताना चाहिए कि पिछले पांच सालों में उसने कौन कौन से कार्य किए हैं।”

कांग्रेस पर दक्षिणी राज्य में खनन माफिया को सरंक्षण देने का आरोप लगाते हुए मोदी ने सवाल किया कि राज्य सरकार ने राज्य में पानी संरक्षण के लिए क्या किया है।

प्रधानमंत्री ने कहा, “कर्नाटक में कांग्रेस सरकार ने पानी संरक्षण के लिए क्या किया है? कांग्रेस राज्य में खनन माफियाओं को संरक्षण दे रही है और हमें इन माफियाओं से लोगों को मुक्त कराने की जरूरत है।”

मोदी ने लोगों से कर्नाटक के विकास को सुनिश्चित करने के लिए कांग्रेस को बाहर करने और भाजपा को चुनने का आग्रह किया।