हमारी योजनाओं से आगे बढ़ रही बेटियां : मुख्यमंत्री


जयपुर। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा कि बालिका शिक्षा पर हमारी सरकार का विशेष फोकस है। कोई भी बालिका शिक्षा से वंचित न रहे इसके लिए सरकार ने कई योजनाएं शुरू की हैं। हम वह हर कोशिश कर रहे हैं जिससे हमारी मेधावी बेटियां विदेश और देश के प्रतिष्ठित शिक्षा संस्थानों में पढ़कर देश और प्रदेश का नाम रोशन कर सकें। सीकर जिले की बालिका भानुप्रिया का उदाहरण देते हुए उन्होेंने कहा कि इस छात्रा की अमेरिका की कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी में बीटेक की पढ़ाई का खर्च सरकार उठा रही है।
श्रीमती राजे शुक्रवार को सीकर जिले के नीमकाथाना विधानसभा क्षेत्र के पाटन स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय के परिसर में मुख्यमंत्री जनसंवाद कार्यक्रम में विभिन्न सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों एवं विभिन्न वर्गाें के लोगों को सम्बोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि साइकिल और लैपटॉप वितरण, गार्गी पुरस्कार, आपकी बेटी जैसी योजनाओं का लाभ उठाकर दूर-दराज में रहने वाली हमारी बालिकाएं भी देश में सफलता के कदम चूम रही हैं। उन्होंने अधिकारियों कोे निर्देश दिए कि वे महिला सशक्तीकरण को समर्पित इन योजनाओं का लाभ पात्र बालिकाओं तक समय पर पहुंचाना सुनिश्चित करें।
गर्भवती महिलाओं की गोद भराई
मुख्यमंत्री ने जनसंवाद कार्यक्रम से पहले पांच गर्भवती महिलाओं की गोद भराई की रस्म में भागीदारी निभाते हुए उन्हें उपहार भेंट किए। उन्होंने इन महिलाओं के सुरक्षित और स्वस्थ मातृत्व की कामना करते हुए उन्हें फूलमाला पहनाकर साड़ी और सूखे मेवे भेंट किए। इस अवसर पर स्थानीय महिलाओं ने मंगल गीत भी गाए। मुख्यमंत्री ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ हस्ताक्षर अभियान की शुरूआत भी की। उन्होंने 8 मेधावी छात्र-छात्राओं को लैपटॉप वितरित किए तथा एनसीसी और स्काउट गाइड कैडेट्स से चर्चा की। उन्होंने स्थानीय जवाहर नवोदय विद्यालय में विशेष मरम्मत कार्य का शिलान्यास किया।
ब्लड स्टोरेज यूनिट की क्षमता बढ़ाएं 
श्रीमती राजे ने प्रबुद्धजनों की मांग पर नीमकाथाना में ब्लड स्टोरेज यूनिट की क्षमता बढ़ाने के निर्देश दिए। लोगों ने बताया कि इस क्षेत्र में ब्लड डोनर हर साल करीब 3 हजार यूनिट तक रक्तदान करते हैं, लेकिन आवश्यकता पड़ने पर स्टोरेज केे अभाव में समय पर रक्त उपलब्ध होने में कठिनाई होती है। इस पर मुख्यमंत्री ने ब्लड स्टोरेज यूनिट की क्षमता बढ़ाने के लिए जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना और राजश्री योजना के लाभार्थियों को योजना का लाभ समय पर देने के लिए कहा।
अनमोल बचपन को मिला जीवन
जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत लाभान्वित 8 बच्चे मुख्यमंत्री से मिले। हृदय रोग सहित अन्य गंभीर बीमारियों से पीड़ित इन बच्चों का निशुल्क उपचार जयपुर के एसएमएस और नारायणा सहित अन्य अस्पतालों में सरकार की इस योजना के तहत कराया गया है। मुख्यमंत्री ने इन बच्चों से मुलाकात की और कहा कि मुझे यह जानकर बहुत खुशी है कि उपचार के बाद ये सभी बच्चे अब स्वस्थ जीवन जी रहे हैं। उन्होंने इन बच्चों के स्वस्थ जीवन की कामना की और उनके साथ फोटो भी खिंचवाए।
विभिन्न वर्गाें के साथ किया संवाद
मुख्यमंत्री ने सीकर क्षेत्र के दौरे के पहले दिन नीमकाथाना विधानसभा क्षेत्र में चार्टर्ड अकान्टेंट, अधिवक्ता संगठन, पेन्शनर समाज, छात्र संगठनों, स्वयं सेवी संस्थाओं, व्यापारी संघों, महिला स्वयं सहायता समूहों और उद्योग जगत के प्रतिनिधियों सहित प्रबुद्धजनों से संवाद किया। उन्होंने इन वर्गाें से राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं की स्थिति पर फीडबैक एवं सुझाव लिए। श्रीमती राजे ने भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, आवास योजना, मुख्यमंत्री राजश्री योजना, लैपटॉप वितरण आदि योजनाओं के लाभार्थियों से भी सीधा संवाद किया।
इस अवसर पर देवस्थान राज्य मंत्री श्री राजकुमार रिणवा, राज्य सैनिक कल्याण सलाहकार समिति के अध्यक्ष श्री प्रेमसिंह बाजौर, सांसद श्री सुमेधानंद, विधायक श्री अभिषेक मटोरिया, जल संसाधन विभाग के प्रमुख सचिव श्री शिखर अग्रवाल, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति सचिव श्रीमती मुग्धा सिन्हा, संभागीय आयुक्त श्री राजेश्वर सिंह, पुलिस महानिरीक्षक श्री हेमन्त प्रियदर्शी, जिला कलक्टर श्री नरेश ठकराल सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी, जनप्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित थे।