युवक के पानी में डूबने की आशंका पर एनिकट में उतरे भाई व पिता, दो के शव निकाले


देई थाना क्षेत्र में मोड़सा पंचायत के माछली नदी के एनीकट में सोमवार को एक पिता व एक पुत्र की डूबने से मौत हो गई। एक की तलाश की जा रही है। एक ही परिवार में एक साथ दो की मौत से परिवार सहित पूरा गांव शोक में डूब गया। वहीं प्रशासन तीन घंटे देरी से मौके पर पहुंचा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गांव का रहने वाला राजू लाल बैरवा एनीकट के पास शौच करने गया था। बरसात के कारण वहां फिसलन थी। वहां राजू का पैर फिसल गया और असंतुलित होने से वह एनिकट में जा गिरा। काफी देर बार भी वह घर नहीं लौटा तो उसके पिता रामसहाय बैरवा व भाई महेंद्र बैरवा उसे तलाशने निकले। वे एनिकट के पास पहुंचे। कहीं नहीं मिला तो उन्हें लगा की राजू एनिकट में डूब गया है। दोनों एनिकट में उतर गए। पानी काफी गहरा था और वे दोनों भी डूब गए।

तीनों काफी देर तक नहीं लौटे तो घरवालों ने ग्रामीणों के साथ तीनों की तलाश शुरू की। ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस नहीं पहुंची तो ग्रामीणों ने अपने स्तर पर उनकी तलाश शुरू की। ग्रामीण रस्सी पकड़कर एनिकट में उतरे। आखिरकार दो घंटे की मशक्कत के बाद ग्रामीणों ने राजू व रामसहाय के शव एनिकट से निकाल लिए। खबर लिखे जाने तक महेंद्र की तलाश जारी थी। काफी देर बाद पुलिस का जाप्ता वहां पहुंचा लेकिन प्रशासन को कोई अधिकारी तीन घंटे तक मौके पर नहीं पहुंचा। तीन घंटे बाद बूंदी से रेस्क्यू टीम भी मौके पर पहुंची और महेंद्र की तलाश शुरू की। घर में दो मौतों से पूरा गांव शोक में डूब गया। परिजनों को रो-रोकर बुरा हाल हो गया। राजू की पांच माह पहले ही सरकारी शिक्षक की नौकरी लगी थी।