दीपक पूनिया फाइनल में पहुंचे, ओलिंपिक में जगह पक्की करने वाले चौथे भारतीय रेसलर


भारत के दीपक पूनिया वर्ल्ड रेसलिंग चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंच गए हैं। शनिवार को सेमीफाइनल में उन्होंने स्वीडन के स्टीफन रेचमुथ को हराया। 86 किलोग्राम वर्ग में फ्री स्टाइल कैटेगरी में स्टीफन की प्रतिष्ठा को देखते हुए दीपक के लिए यह मुकाबला कठिन माना जा रहा था। लेकिन भारत के इस युवा पहलवान ने उन्हें 8-2 से शिकस्त दी। दीपक पहली बार इस स्पर्धा में शिरकत कर रहे हैं, वे जूनियर वर्ल्ड चैम्पियन रह चुके हैं।

इस जीत के साथ ही दीपक ने टोक्यो ओलिंपिक के लिए अपना टिकट पक्का कर लिया है। उनसे पहले विनेश फोगाट, बजरंग पूनिया और रवि कुमार दाहिया पहले ही 2020 ओलिंपिक के लिए क्वॉलिफाई कर चुके हैं। दीपक के लिए वर्ल्ड रेसलिंग चैम्पियनशिप का क्वार्टरफाइनल मुकाबला काफी कठिन रहा था। हालांकि, उन्होंने कोलंबिया के कार्लोस मेंडेज पर 7/6 से जीत दर्ज की थी। भारतीय ओलिंपिक एसोसिएशन ने पूनिया को जीत पर बधाई दी है।

ANI

@ANI

Sports Authority of India: Deepak Punia (in file pic) wins Olympic Quota in men’s 86 kg category, after reaching semifinals at World Wrestling Championships. He beat Colombia’s Carlos Izquierdo 7-6 after trailing 3-6. India has won 4 Olympic Quotas from this Championship.

Twitter पर छबि देखें
74 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं

राहुल अवारे सेमीफाइनल में हारे
दीपक के अलावा भारत के एक और पहलवान राहुल अवारे भी सेमीफाइनल में पहुंचे थे। हालांकि, यहां राहुल को हार का सामना करना पड़ा। अवारे को जॉर्जिया के बेका लोमेज ने 10-6 से हरा दिया। हालांकि, यह नॉन ओलिंपिक कैटेगरी में 61 किलोग्राम वर्ग का मुकाबला था।


स्वर्ण जीतने वाले सुशीलल हारे

ओलिंपिक में दो बार के पदक विजेता सुशील कुमार ने शुक्रवार को आठ साल बाद वापसी की थी। हालांकि ये अच्छी नहीं रही और वर्ल्ड चैम्पियनशिप के ओपनिंग बाउट में ही उन्हें हार का सामना करना पड़ा। 74 किलोग्राम भार वर्ग में अजरबैजान के खाद्जहिमुराद गादझियुव ने सुशील को 11-9 से हराया। सुशील वर्ल्ड चैम्पियनशिप में स्वर्ण जीतने वाले इकलौते भारतीय रेसलर हैं। उन्होंने 2010 में रूस की राजधानी मॉस्को में ये उपलब्धि हासिल की थी।