कांग्रेस की महिला कार्यकर्ताओं की मांग- विधानसभा में अश्लील वीडियो देखने वाले डिप्टी सीएम को बर्खास्त करें


कर्नाटक की महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राज्य के नए डिप्टी सीएम लक्ष्मण सावदी को बर्खास्त किए जाने की मांग की है। उनका कहना है कि सावदी 2012 में विधानसभा में अश्लील वीडियो देखते हुए पकड़े गए थे। हम भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से उन्हें बर्खास्त करने की मांग करते हैं।

2012 में सावदी भाजपा नेता सीसी पाटिल और कृष्णा पालमर के साथ सदन में अश्लील क्लिप देखते कैमरे में कैद हुए थे। इसके बाद उन्होंने कहा था कि वे इसे शैक्षिक उद्देश्य से देख रहे थे। वीडियो के जरिए रेव पार्टियों के बारे में जानकारी जुटाना चाह रहे थे।

सावदी किसी सदन के सदस्य नहीं

सावदी न ही विधानसभा या विधान परिषद के सदस्य नहीं हैं। लेकिन येदियुरप्पा सरकार ने उन्हें उपमुख्यमंत्री बना दिया। बताया जा रहा है कि कांग्रेस-जेडीएस सरकार को अस्थिर करने में सावदी ने अहम भूमिका निभाई थी। वे अयोग्य विधायक रमेश जारकीहोली के करीबी हैं।

भाजपा के एक गुट ने भी विरोध किया

इससे पहले कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने सावदी को डिप्टी सीएम बनाए जाने को लेकर येदियुरप्पा सरकार पर हमला बोला था। उन्होंने कहा था कि सावदी ने विधानसभा के अंदर इस तरह की हरकत की थी। वहीं, भाजपा के एक गुट ने भी उन्हें डिप्टी सीएम बनाए जाने का विरोध किया था।

कर्नाटक में 3 डिप्टी सीएम बनाए गए

20 अगस्त को येदियुरप्पा ने 17 मंत्रियों को कैबिनेट में शामिल किया था। 26 अगस्त को मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने गोविंद करजोल, अश्वथ नारायण और लक्ष्मण सावदी को उपमुख्यमंत्री बनाया था। सावदी को परिवहन मंत्रालय का जिम्मा दिया गया है।