इस समय कभी न करें ये काम नहीं तो…



काल ज़िंदगी की एक नयी आरंभ लेकर आती है जंहा हम अपने ज़िंदगी में हुई पुरानी बाते भूलकर एक नए दिन की आरंभ करते है। नयी प्रातः काल के दिन हम सभी कामों को लेकर बहुत उत्साहित रहते है लेकिन सुबह-सुबह ही हमें कुछ बुरा सुनने व देखने को मिल जाता है तो हमारा मन निराश हो जाता है व सोचने लग जातेहै कि न जाने आज हमारे साथ क्या होने वाला है। आपनेसुना ही होगा कि जब कार्य बिगड़ जाता है तो ज्यादातर लोग बोलते है कि पता नहीं प्रातः काल किसका चेहरा देखकर उठे थे।

हर वस्तु का अपना एक अलग असर होता है वहीं कुछ चीजें ऐसी होती है जिन्हें प्रातः काल के समय नहीं देखना चाहिए। अगर आप इन्हें देखते है तो आपको अनचाही समस्याओं का सामना करना पड़ता है । अगर आप प्रातः काल उठते ही आईने में अपना चेहरा देखते है तो ये सही नहीं है ऐसा करने से सारा दिन नकारात्मकता हावी रहती है ।

इसलिए बेहतर होगा कि आप प्रातः काल उठकर दोनों हाथों की हथेलियों को जोड़कर देखें । माना जाता है कि अपनी हथेली देखना मतलब अपने इष्ट देव का दर्शन करना होता है । कभी भी खाना खाने के बाद जूठे बर्तन नहीं रखना चाहिए रात को बर्तन धोकर सोना चाहिए, संभव न हो तो पानी से निकाल कर रखें । अगर आप प्रातः काल सुबह घी-तेल से भरे जूठे बर्तन देखते है तो ये अशुभ माना जाता है । इसके अतिरिक्त अगर आप प्रातः काल के समय किसी आदमी अथवा जानवर विशेषकर कुत्तों को आपस में लड़ते देखते है तो आपके लिए पूरा दिन ख़राब हो सकता है ।