हज यात्रा 2018 को सुगम बनाने के पूरे प्रयास किये जा रहे हैं – अध्यक्ष, राजस्थान स्टेट हज कमेटी


जयपुर। राजस्थान स्टेट हज कमेटी के अध्यक्ष अमीन पठान ने गुरूवार को शासन सचिवालय स्थित कॉन्फ्रेंस हॉल में हज यात्रा 2018 के विषय में बताया कि बेहतर हज के लिए राजस्थान स्टेट हज कमेटी पूरा प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि हज 2018 को पूर्णतया व्यवस्थित और सुगम बनाने के लिए पूरे प्रयास किये जा रहे हैं।
उन्होंने बताया कि हज यात्रा-2018 के हज यात्रियों के टीकाकरण एवं जिला स्तर पर प्रशिक्षण शिविर 18 जून, 2018 रमजान माह के बाद शुरू किये जाने हैं। स्थानीय हज स्वयंसेवी संस्थाओं, जिला संयोजक एवं सहसंयोजक की मदद से प्रशिक्षण एवं टीकाकरण कैम्पों में व्यवस्था बेहतरीन बनाई जायेगी।
 श्री पठान ने कहा कि राज्य से मेहरम केटेगरी के लिये 14 आवेदकों का चयन हज यात्रा 2018 के लिए कर लिया गया है। जिनको अपना पासपोर्ट, स्वास्थ्य प्रमाण पत्र, हज अदायगी पर्ची, पासपोर्ट साइज फोटो एवं संबंधित दस्तावेज 5 मई, 2018 तक राजस्थान स्टेट हज कमेटी, जयपुर में जमा करवाने हैं।
उन्होंने बताया कि किंगडम ऑफ सऊदी अरब द्वारा भारत को 5000 सीटें मीना की ट्रेडिशनल बाउन्ड्री के बाहर टैन्ट में आवास की व्यवस्था की शर्त पर अतिरिक्त सीटें आवंटित की हैं। जिसमें से 3677 सीट हज कमेटी ऑफ इण्डिया, मुम्बई व 1323 सीटें प्राईवेट टयूर ऑपरेटर्स को दी गई हैं। मुस्लिम आबादी के अनुपात में राज्य को 210 सीटें आवंटित की गई है जिसमें 01 सीट 65 से 69 वर्ष की आयु वाली लगातार 5 वीं वर्ष आवेदनकर्ता को सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार दी गई हैं तथा शेष 209 सीटें सामान्य प्रतीक्षा सूची से चयनित हज यात्रियों को दी गई हैं।
श्री अमीन पठान ने कहा कि इस बार किंगडम ऑफ सऊदी अरब द्वारा रिपीटर यानी जीवन में कभी भी हज या उमरा किया है तथा पुनः हज के लिय जा रहे हैं उन्हें राशि 35 हजार 202 रुपये हज अदायगी की द्वितीय किस्त के साथ जमा कराने हाेंगे या सऊदी अरब एयरपोर्ट पर 2000 सऊदी रियाल जमा करने होंगे। भारत सरकार द्वारा रिपीटर से संबंधित इस राशि को माफ करवाने हेतु किंगडम ऑफ सऊदी अरब से बातचीत की जा रही है।
उन्होंने बताया कि हज यात्रा-2018 के चयनित हज यात्रियों द्वारा हज अदायगी की दूसरी किस्त 23 मई 2018 तक हज कमेटी ऑफ इण्डिया के स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया का खाता संख्या 32175020010  (फी टाइप-25) या यूनियन बैंक ऑफ इण्डिया का खाता संख्या 318702010406009 (हज अकाउंट) में नकद अथवा ऑनलाइन www.hajcommittee.gov.in  अपनी रिहाईसी श्रेणी के अनुसार राशि जमा करवायी जानी है।
उन्होंने बताया कि ग्रीन कैटेगरी में कुल रकम 2 लाख 58 हजार 200, दूसरी किस्त 1 लाख 77 हजार 200, अजीजिया कैटेगरी में 2 लाख 24 हजार 100, दूसरी किस्त 1 लाख 43 हजार 100,  मदीना रूबात ग्रीन में  2 लाख 41 हजार 450, दूसरी किस्त 1 लाख 60 हजार 450, मदीना रूबात अजीजिया में 2 लाख 7 हजार 300, दूसरी किस्त 1 लाख 26 हजार 300, मक्का रूबात में 1 लाख 79 हजार, दूसरी किस्त 98 हजार, मक्का-मदीना रूबात के  लिए 1 लाख 62 हजार 250, दूसरी किस्त 81 हजार 250 रुपये की राशि जमा करवाई जानी है।
उन्होंने बताया कि चयनित हज आवेदक यदि आई.डी.बी.आई. बैंक के जरिये अपनी कुर्बानी की राशि जमा करने चाहते हैं। तो इस हज अदायगी राशि के अतिरिक्त राशि 8 हजार रुपये प्रति आवेदक के हिसाब से जमा करवाया जाना है। रिपीटर के मामले में राशि 35202.00 रुपये एवं शिया हज आवेदक जो जोहफा के लिये मिकात का चुनाव कर जयपुर से जददा एयरपोर्ट टर्मिनल पर पहुंचेंगे उनको राशि 1 हजार 760 रुपये प्रति हज यात्री उक्त राशि के अतिरिक्त जमा करना होगा। इनफेंट के लिये 13 हजार 100 रुपये जमा किये जाने हैं।
श्री पठान ने कहा कि राज्य को मुस्लिम आबादी के अनुपात में कुर्रा (लॉटरी) से पूर्व 5201 सीटें आवंटित की गई थीं। निरस्त आवेदकाें के बदले में प्राप्त सीटों के अनुसार अब तक 5259 सीटों का चयन कर लिया गया है जिसमें सामान्य प्रतीक्षा सूची से 192 तक का चयन हुआ है। 210 सीटों का अतिरिक्त आवंटन, 14 मेहरम सीट एवं 27 खादित उल हुज्जाज की सीटों का चयनित सीटों में समायोजन किया जाना शेष है।
उन्होंने बताया कि राज्य से हज यात्रा 2018 के लिय कुल आवेदन 14420 किये गये थे। राज्य को मुस्लिम आबादी के अनुपात में 5201 सीटें आवंटित की गई थी। जिसमें से रिजर्व केटेगरी 70  प्लस   728  एवं महिला बिना मेहरम 12 के अलावा शेष 4461 सामान्य सीटों का आवंटन कुर्रा (लॉटरी) द्वारा किया गया था।