वित्त मंत्री ने खाताधारकों से कहा- आपकी रकम निकासी की मांग पर आरबीआई से बात करेंगे


वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (पीएमसी) बैंक के खाताधारकों से मुलाकात की। बैंक के ग्राहक मुंबई में भाजपा कार्यालय के बाहर जुटे थे। 21 अक्टूबर को होने वाले महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के सिलसिले में सीतारमण मुंबई पहुंचीं। उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि पीएमसी बैंक के ग्राहकों की जरूरतों और परेशानियों के बारे में आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास को बताया जाएगा। आरबीआई से अपील की जाएगी कि खाताधारकों को जल्द रकम निकासी की छूट दी जाए।

पीएमसी जैसी घटनाएं रोकने के लिए कानून में संशोधन के लिए तैयार: वित्त मंत्री

वित्त मंत्री ने ये भी कहा कि पीएमसी बैंक के मामले से सरकार का कोई लेना-देना नहीं है। पीएमसी का रेग्युलेटर आरबीआई है। लेकिन, ग्राहकों के हितों के लिए आरबीआई से चर्चा की जाएगी। राज्य स्तरीय को-ऑपरेटिव बैंकों के संचालन में सुधार के लिए जरूरत हुई तो कानून में संशोधन किया जाएगा। इस पर चर्चा के लिए वित्तीय सेवाओं और आर्थिक मामलों के विभागों के सचिव जल्द आरबीआई के डिप्टी गवर्नर से मुलाकात करेंगे।

आरबीआई ने पीएमसी बैंक के खाताधारकों के लिए रकम निकासी की सीमा 25 हजार रुपए तय कर रखी है। ग्राहक लिमिट बढ़ाने और पूरी रकम निकालने की छूट देने की मांग कर रहे हैं। एनपीए कम बताने और कर्ज देने में अनियमितताओं की वजह से पीएमसी बैंक पर आरबीआई ने पिछले दिनों 6 महीने का प्रतिबंध लगाया था।