सुरंग बनाकर पेट्रोलियम पाइप लाईन से डीजल चुराने वाले अन्तर्राज्यीय गिरोह के पांच बदमाश गिरफ्तार


जयपुर. शहर में हिन्‍दुस्‍तान पेट्रोलियम की भूमिगत पाइप लाईन से  डीजल चुराने वाले एक अन्तर्राज्यीय गिरोह का खुलासा हुआ है। मामले में कार्रवाई करते हुए पश्चिम जिले की चौमूं व हरमाड़ा थाना पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई कर पांच शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है। उनके कब्जे से दो पिकअप गाड़ी, दो बाइक बरामद व भारी मात्रा में चोरी का डीजल बरामद किया गया है। इसके लिए सूनसान इलाके में एक कमरा लेकर नजदीक ही सुरंग खोदी। इसके बाद रोजाना चार से पांच गाड़ियाें में डीजल चुराकर बेचने लगे थे।

लकड़ी के फंटों से सुरंग बनाई और उस सुरंग के अन्‍दर से तेल पाईप लाईन को मकान तक ले आए

  1. पुलिस उपायुक्‍त जयपुर (पश्चिम) विकास कुमार शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी शिम्भू सैनी निवासी होली दरवाजे के बाहर, चौमूं हाल हरदेव नगर द्वितीय, हरमाड़ा जयपुर है। दूसरा आरोपी मुकेश कुमार जाट निवासी गांव काकोडा, सूरजगढ़, जिला झुन्झुनूं है। तीसरा आरोपी दिनेश मीणा निवासी गांव सुनारी, थाना खेतड़ी, जिला झुन्झुनू हाल लोहा मण्डी थाना हरमाड़ा है।
  2. चौथा आरोपी धर्मेन्द्र सिंह निवासी गांव हनुमानपुरा, हरमाडा का है और पांचवां ओमप्रकाश निवासी बालाजी धाम, राजावास हरमाड़ा, जयपुर है। डीसीपी विकास शर्मा ने बताय कि चौमू सर्किल इलाके में काफी समय से पेट्रोलियम की पाइप लाइन को काटकर डीजल एवं पेट्रोल चोरी होने की शिकायतें मिल रही थी।
  3. नाकाबंदी कर चौमूं पुलिस ने पहले डीजल से भरी गाड़ी को पकड़ा, पूछताछ में ड्राइवर से खुला डीजल चोरी का राज

    इस पर एडिशनल डीसीपी बजरंग सिंह शेखावत के निर्देशन में एसीपी चौमूं फूलचन्‍द मीना व हरमाड़ा थानाप्रभारी रमेश सैनी के नेतृत्व में स्पेशल पुलिस टीम गठित की गई। जिसमें चौमूं थाने के कांस्टेबल राजेश कुमार की सूचना पर चौमूं थानाधिकारी ने पुलिस टीम के साथ मिलकर नाकाबन्‍दी करवाई।

  4. जिसमें डीजल के कैंपरों से भरी हुई पिकअप पकड़ी। पूछताछ में ड्राइवर ने बताया कि पिकअप गाड़ी दिनेश मीणा की है। वह दिनेश के कहने पर रींगस किसी पेट्रोल पम्‍प पर डीजल खाली करने जा रहा है। तब पुलिस टीम चालक से मिली जानकारी के आधार पर सीकर रोड स्थित राजावास पहुंची।
  5. गैंग के दो मुख्य सरगनाओं ने सूनसान जगह पर डीजल चोरी की वारदात की योजना बनाई, फिर मकान लिया

    जहां एक पिकअप व दो मोटरसाईकिल जप्‍त कर वहां मौजूद गैंग के सदस्य आरोपी शिम्‍भु, मुकेश, दिनेश, धर्मेंन्‍द्र व ओमप्रकाश को राउण्‍डअप किया।इसके बाद पुलिस टीम राजावास स्थित बालाजी धाम के एक टीनशेडनुमा मकान में पहुंची। जहां नजदीक से ही गुजर रही एचपीसीएल की पाईप लाईन में सेंध लगाकर डीजल चोरी का कारोबार लम्‍बे समय से कर रहा है।

  6. इस संबंध में चौमूं थानाप्रभारी ने हरमाडा थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है। जिसका अनुसंधान थानाप्रभारी रमेश सैनी को सौंपा गया है। एडिशनल डीसीपी बजरंग सिंह के अनुसार प्रारंभिक जांच में सामने आया कि आरोपी बलजीत सिंह, राकेश दुबे व सरदार सिंह ने हिन्‍दुस्‍तान पेट्रोलियम की डीजल पाईप लाईन के पास सुनसान जगह पर अपनी वारदात को अंजाम देने का लक्ष्‍य बनाया।
  7. डीजल पाइप लाइन से 35 फीट दूरी पर मकान से भूमिगत सुरंग बनाई, जमीन को मशीनों से खोदा

    इन तीनों अभियुक्‍तों ने हिन्‍दुस्‍तान पेट्रोलियम की डीजल पाईप लाईन से लगभग 30-35 फीट की दूरी पर स्थित चन्‍द्रप्रकाश शर्मा के मकान से एक मजबूत सुरंग बनाकर जीआई पाईप जोड़कर मुख्‍य लाईन में वॉल लगाकर डीजल की चोरी करते थे व डीजल को पिकअप व छोटे वाहन से परिवहन करते थे।

  8. गैंग ने प्रथम मकान का चयन डीजल पाईप लाईन के नजदीक की लॉकेशन के आधार पर किया । इन अभियुक्‍तों ने तकनीकी मदद लेकर डीजल तेल पाईप लाईन से मकान तक सुरंग का निर्माण किया और उस सुरंग को लकडी के फंटों से बनाया और उस सुरंग के अन्‍दर तेल पाईप लाईन को मकान तक लाया गया।
  9. आसपास के रहने वाले लोगों को कोई संदेह न हो इस कारण उन्‍होंने यह कार्य किया। अभियुक्‍तों ने जमीन से करीब 7-8 फीट नीचे एक मकान से दूसरे मकान में पाईप लाईन बिछायी। इसमें मशीनों की सहायता ली गई। वहीं, प्रतिदिन 5-6 पिकअप गाडियां डीजल भरकर भिजवाना सामने आया है।