पूर्व वायुसेना प्रमुख ने राजनाथ से कहा- सेना अध्यक्षों की चयन समिति में पूर्व प्रमुखों को शामिल करें


वायुसेना प्रमुख रहे पीवी नायक ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को सुझाव दिया है कि नए सेना अध्यक्षों के नियुक्ति पैनल में कम से कम एक पूर्व सेना प्रमुख को शामिल किया जाए। इससे संबंध में नायक ने मंगलवार को रक्षा मंत्री को पत्र लिखा। इसमें उन्होंने कहा कि कोई इससे इनकार नहीं कर सकता है कि वरिष्ठता की जगह योग्यता को तरजीह दी जानी चाहिए। मौजूदा वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ का कार्यकाल सितंबर में खत्म हो रहा है। नए प्रमुख के लिए कई अधिकारी रेस में हैं।

उन्होंने कहा, ”आखिर योग्यता का फैसला कौन करेगा? रक्षा सचिव, पीएमओ, इंटेल या नासा? इन सभी को संबंधित अधिकारी का केवल ऊपरी ज्ञान है। राजनीतिक के साथ हमें नियुक्ति पैनल में भी शामिल किया जाना चाहिए। सरकार तीनों सेनाओं के पूर्व प्रमुखों पर विश्वास करे, क्योंकि वे चार दशक के अनुभव के बाद उस पद पर पहुंचते हैं। हमें इनके सुरक्षा के संबंध में ज्ञान और अनुभव का फायदा उठाया जाना चाहिए।”

सीडीएस की नियुक्ति पर चर्चा का सही वक्त

नायक ने पत्र में सशस्त्र बलों का रक्षा मंत्रालय के साथ एकीकरण पर जोर दिया है। उन्होंने कहा, ”सुरक्षा बलों को फैसला लेने वाली प्रक्रिया का हिस्सा बनाया जाना चाहिए। हमें छोटे स्तर से शुरुआत करनी चाहिए। मुझे लगता है कि अब चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) की नियुक्ति पर चर्चा शुरू करने का सही समय है।”