विधानसभा का बजट सत्र आज से, सत्र हंगामेदार होने के आसार; दोनाें दलों ने कमर कसी


प्रदेश सरकार के छह माह के कार्यकाल के मुद्दों को लेकर भाजपा सदन में सरकार को घेरेगी। गुरुवार से विधानसभा का बजट सत्र शुरू हो रहा है। सरकार के पिछले छह माह के कार्यकाल में सामने आए बड़े मुद्दों को लेकर भाजपा सदन में सरकार घेरेगी। किसान आत्महत्या, कर्जमाफी, दुष्कर्म, घोटाले और बेरोजगारी भत्तों को लेकर भाजपा विधायकों ने विधानसभा में सवाल लगाए हैं।

बुधवार तक सत्र के लिए करीब 3 हजार प्रश्न सूचीबद्ध हुए हैं।  इनमें सबसे कानून व्यवस्था, पानी-बिजली, मेडिकल, खेती-किसान के मुद्दे पर सबसे ज्यादा सवाल पूछे गए हैं। इनमें कानून व्यवस्था से जुड़े गृह विभाग से 160 सवाल, मेडिकल से जुड़े 217 सवाल, पानी और बिजली से जुड़े 300 से ज्यादा सवाल, किसानों से जुड़े 200 से ज्यादा सवाल पूछे गए हैं। भाजपा ने अपने पूर्व मंत्रियों व वरिष्ठ विधायकों को खास तौर पर यह जिम्मेदारी दी है कि जिन महकमों के बारे में उन्हें अच्छी जानकारी है उन्हें लेकर विधानसभा में सवाल लगाएं ताकि वाद-विवाद की स्थिति में पार्टी कमजोर न पड़े और सरकार मंत्रियों को घेरा जा सके।

भाजपा की तरफ से नेता प्रतिपक्ष व पूर्व गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया ने कानून व्यवस्था, उपनेता प्रतिपक्ष व पूर्व पंचायती राज मंत्री राजेंद्र राठौड़ कर्जमाफी,आर्थिक आरक्षण, वरिष्ठ विधायक व पूर्व स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ ने स्वास्थ्य सेवाओं और कानून व्यवस्था, पूर्व शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी ने यूडीएच, स्थानीय निकाय,शिक्षा, पूर्व उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने उच्च शिक्षा ने पीएचईडी, पंचायती राज व अशोक लाहोटी ने ऊर्जा, फूड और मेडिकल हेल्थ को लेकर सवाल लगाए हैं।

सवाल ही सरकार की मुश्किलें बढ़ाएंगे

गैंगरेप पीड़िताओं को भी नौकरी देगी सरकारी? 
थानागाजी दुष्कर्म मामले में सरकार ने पीड़िता को पुलिस में नौकरी दी है। इस मुद्दे को लेकर भाजपा विधायक कालीचरण सराफ ने सवाल पूछा है कि सरकार प्रदेश में हुए अन्‍य गैंगरेप पीड़िताओं को भी नौकरी देने का विचार रखती है।
कितने बेरोजगारों को भत्ता दिया?
शिक्षित बेरोजगारों की कुल संख्‍या कितनी है? अब तक कितने शिक्षित बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता दिया गया है ?
आदर्श कोऑपरेटिव सोसायटी की ऑडिट कब हुई?
उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने आदर्श कोऑपरेटिव सोसायटी के घोटाले पर सरकार से सवाल पूछे हैं। उन्होंने सवाल लगाया है कि प्रदेश में पंजीकृत सहकारी सोसायटीज के खिलाफ पिछले पांच सालों में कितनी शिकायतें मिली हैं। इसके साथ ही यह भी पूछा है कि आदर्श कोऑपरेटिव सोसायटी की प्रदेश में अंतिम ऑडिट कब हुई थी।
कितने किसानों के खातों में कर्जमाफी ऋण माफी समायोजित की?
राठौड़ ने प्रदेश में खरीफ ऋण वितरण तथा किसान कर्जमाफी को लेकर सवाल लगाए हैं। इसमें उन्होंने पूछा है कि कितने किसानों के खातों में कर्जमाफी की राशि समायोजित की गई है।

लाेकसभा के बाद विधानसभा में गूंजेगा जगन का मुद्दा
पिछले दिनाें नागाैर विधायक हनुमान बेनीवाल ने लाेकसभा में धाैलपुर के दस्यु जगन गुर्जर का मुद्दा उठाया था। अब विधानसभा में विधायक किरण माहेश्वरी ने भी जगन गुर्जर काे लेकर सवाल लगा दिया है। उन्हाेंने सरकार से पूछा है कि धौलपुर के बसई डांडा क्षेत्र में दस्‍यु जगन गुर्जर ने 2 महिलाओं को पीटा एवं निवस्‍त्र करके घुमाया था।

कांग्रेस ने तय की रणनीति

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में बुधवार को देर शाम मुख्यमंत्री आवास पर कांग्रेस विधायक दल की बैठक हुई, जिसमें पिछली सरकार की नाकामियों पर भाजपा को घेरने की रणनीति बनाई गई। इस दौरान विधायक दल की ओर से राहुल गांधी के नेतृत्व में विश्वास व्यक्त किया गया। सर्वसम्मति से राहुल गांधी को पार्टी का अध्यक्ष बने रहने के लिए प्रस्ताव पास किया गया।

विधायक दल की बैठक में नहीं बोले विधायक 
कांग्रेस विधायक दल की बैठक में विधायक नहीं बोले। उन्हें अपनी राय नहीं रखने दी गई। तर्क दिया गया कि विधायक बैठक के भीतर बोलेंगे कुछ। बाहर टीवी में कुछ चलेगा और अखबारों में कुछ छपेगा। इसलिए विधायकों को बोलने की जरूरत ही नही है। गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेस में बयानों का दौर जारी हैं, जिससे बचने के लिए यह कदम उठाया गया। ताकि कांग्रेस विधायकों के कारण पार्टी की बेवजह सुर्खियां न बने।