हनुमान चालीसा का पाठ करने से होती है बुद्धि और बल की प्राप्ति



भगवान राम के परम भक्त हनुमान का ध्यान अगर पूरे मन और श्रद्धा से किया जाए तो इससे भगवान राम प्रसन्न होते हैं। हनुमान के हृदय में श्री राम बसते हैं और जो व्यक्ति हनुमान की भक्ति करता है उस पर श्रीराम की कृपा बनी रहती है। हनुमान जी को प्रसन्न करने का सबसे अच्छा माध्यम है हनुमान चालीसा।

हनुमान चालीसा में बजरंगबली के जीवन का सार छुपा हुआ है। महान कवि तुलसीदास द्वारा लिखे गए हनुमान चालीसा में 40 छंद हैं जिसके कारण इसे चालीसा कहा जाता है। हिंदू धर्म में हनुमान चालीसा का बहुत महत्व है। कुछ लोग तो प्रत्येक मंगलवार को हनुमान चालीस का पाठ करते हैं, वहीं शनिवार के दिन हनुमान चालीस का पाठ करना भी अच्छा माना जाता है। आइए जानते है क्यों है हनुमान चालीसा का इतना महत्व…………..

जो व्यक्ति प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करता है उससे डर, भय और विपत्ति दूर रहती हैं।

अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में शनि दोष है या व्यक्ति पर शनि की साढे़साती चल रही है तो उस व्यक्ति को शनिवार के दिन हनुमान चालीसा का पाठ करने से लाभ होता है।

जिस व्यक्ति पर किसी भूत-प्रेत का साया हो अगर वह हनुमान चालीसा का पाठ करता है तो उसे इन बाधाओं से मुक्ति मिलती है।

अध्ययन करने वाले छात्रों को प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए, इससे बुद्धि और बल की प्राप्ति होती हैं।

(इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)