उच्च शिक्षा मंत्री ने राजसंमद में मेधावी छात्राओं को साईकिल और स्कूटी वितरण किया


जयपुर। उच्च शिक्षा मंत्री श्रीमती किरण माहेश्वरी ने बालिका शिक्षा को सामाजिक विकास एवं राष्ट्रीय उत्थान का मूलाधार निरूपित करते हुए छात्राओं से कहा है कि वे सरकारी योजनाओं का पूरा-पूरा लाभ पाएं और उच्च्तम शिक्षण-प्रशिक्षण के माध्यम से अपने भविष्य को सँवारने आगे आएं।
श्रीमती माहेश्वरी ने गुरुवार को राजसमन्द जिला मुख्यालय पर राजनगर स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में  मेधावी छात्राओं को स्कूटी व पुरस्कार वितरण समारोह को संबोधित करते हुए यह उद्गार व्यक्त किए।
श्रीमती माहेश्वरी ने सरस्वती प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्वलित कर शिक्षा विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम का  शुभारंभ किया और  17 मेधावी बालिकाओं को स्कूटी वितरित की।
उच्च शिक्षा मंत्री श्रीमती किरण माहेश्वरी ने मेधावी छात्राओं को उपरणा पहनाया तथा प्रमाण पत्र के साथ पद्माक्षी पुरस्कार प्रदान कर बालिकाओं को सम्मानित किया। उन्होंने पद्माक्षी योजना के अंतर्गत 7 बालिकाओं को स्कूटी के साथ एक-एक लाख की धनराशि प्रदान की। यह सभी वे बालिकाये हैं जो कक्षा बारहवीं में विभिन्न श्रेणियों में जिला स्तर पर अव्वल रही हैं। इसमें अनेक बेटियों का ‘‘मुख्यमंत्री हमारी बेटी योजना’’ में चयन हुआ है। उच्च शिक्षा मंत्री ने आर्थिक मेधावी योजना योजना में 10 छात्राओं पुरस्कृत किया और स्कूटी प्रदान की।
इस समारोह में श्रीमती माहेश्वरी अपने विवेकाधीन कोटे से पहले की गई घोषणा के अनुसार राजसमंद विधानसभा क्षेत्र में बोर्ड परीक्षाओं में 54 विद्यालयों की विभिन्न श्रेणियों में अव्वल रही 200 मेधावी बालिकाओं को एक-एक हजार रुपए नगद प्रोत्साहन पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया।
उल्लेखनीय है कि इस प्रकार की अनूठी प्रोत्साहन योजना उच्च शिक्षा मंत्री श्रीमती किरण माहेश्वरी ने अपनी ओर से आरंभ की है।  सभी बालिकाओं और उनके अभिभावकों ने इसके लिए श्रीमती किरण माहेश्वरी का आभार जताया और बालिकाओं के कल्याण और विकास के लिए उनकी आत्मीय भागीदारी को अनुकरणीय एवं सराहनीय बताया।
अपने उद्बोधन में उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने  प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे द्वारा बेटियों को पढ़ाने, आगे बढ़ाने और उनके सुनहरे भविष्य के लिए संचालित योजनाओं और कार्यक्रमों की जानकारी दी और कहा कि हम सभी का कर्तव्य है कि बेटियों को आगे बढ़ाएं और पढ़ाते हुए उनके भविष्य को सुनहरा बनाएं।
श्रीमती माहेश्वरी ने बताया कि सरकार की योजनाओं की बदौलत स्कूल-कॉलेजों में आशातीत रूप से नामांकन बढ़ाये गये है और इसी तरह कॉलेज शिक्षा में भी नामांकन बढ़ा है।
उन्होंने कहा कि  सरकार की योजनाओं और प्रोत्साहन के बदौलत आज लड़कियां मेरिट में आगे आ रही है और समाज जीवन के विभिन्न क्षेत्रें में धाक जमाने लगी हैं।
उच्च शिक्षा मंत्री में राजसमंद जिले में बालिकाओं की शिक्षा के विकास के लिए किए जा रहे प्रयासों के बारे में बताया और कहा कि राजसमंद में अब सरकार ने लड़कियों के लिए अलग से कॉलेज खोला है और इसका लाभ पाकर यहां की लड़कियां आगे बढ़ेगीं और अपना, राजसमंद तथा राजस्थान का नाम रोशन करेंगी।
इस अवसर पर सभापति सुरेश पालीवाल, उप सभापति अर्जुन मेवाड़ा, समाजसेवी महेंद्र टेलर, भगवानसिंह, पार्षद हिम्मत मेहता सहित नगर परिषद के कई पार्षद, मेधावी छात्राएं, अभिभावकगण, शिक्षक शिक्षिकाएँ, गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।
स्वागत भाषण जिला शिक्षा अधिकारी भरत जोशी ने दिया और बालिकाओं के लिए शैक्षिक विकास योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया।  संचालन शिवशंकर जोशी ने किया।
इससे पूर्व उच्च शिक्षा मंत्री श्रीमती किरण माहेश्वरी ने श्री बालकृष्ण विद्या मंदिर राजकीय माध्यमिक विद्यालय में आयोजित समारोह में 150 बालिकाओं को साइकिल वितरण किया। उन्होंने अपने उद्बोधन में बालिकाओं के शैक्षिक विकास की योजनाओं का जिक्र किया और सभी से कहा कि बालिकाओं के उत्थान में अपनी समर्पित भागीदारी अदा करें।