हिमाचल प्रदेश: भाजपा विधायक नरेंद्र बरागटा बने मुख्य सचेतक


हिमाचल प्रदेश सरकार में मंत्री रह चुके और जुब्बल-कोटखाई के विधायक नरेंद्र बरागटा को मुख्य सचेतक नियुक्त किया गया है। इस नियुक्ति के बाद बरागटा ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से मुलाकात करके उनका आभार जताया है। सरकार के गठन के दौरान मंत्री पद से वंचित रहे वरिष्ठ भाजपा विधायक बरागटा इसका इंतजार कर रहे थे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की सिफारिश पर सचिवालय ने बरागटा को सरकारी मुख्य सचेतक नियुक्त करने की अधिसूचना जारी कर दी। बजट सत्र के दौरान मुख्यमंत्री ने अपने दो वरिष्ठ विधायकों को एडजस्ट करने के लिए विधानसभा मुख्य सचेतक व उप मुख्य सचेतक का वेतन, भत्ते और अन्य प्रसुविधाएं विधेयक 2018 पेश कर विधानसभा से पास कराया था।

सूत्रों के अनुसार पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल की पैरवी के चलते बरागटा को मुख्य सचेतक की कुर्सी नसीब हुई है। इसी तरह सरकार की तरफ से वरिष्ठ विधायक एवं ओ.बी.सी. के इकलौते कद्दावर नेता रमेश धवाला को उप मुख्य सचेतक बनाए जाने का प्रस्ताव किया गया था लेकिन उन्होंने इसे ठुकरा दिया। आपको बता दें कि सत्ता पक्ष के 2 सदस्यों को मुख्य सचेतक और उप मुख्य सचेतक बनाए जाने संबंधी विधेयक विधानसभा के बजट सत्र में पारित किया गया था।

विपक्ष के भारी विरोध के बीच विधानसभा में इस विधेयक को पारित किया गया था। इसमें मुख्य सचेतक को कैबिनेट मंत्री के बराबर वेतन और भत्ते सहित अन्य सुविधाएं देने का प्रावधान किया गया है। इसके अलावा उप मुख्य सचेतक को राज्य मंत्री के बराबर वेतन और भत्तों के अलावा अन्य सुविधाएं देने की बात कही गई है।