बच्ची को अगवा कर दुष्कर्म करने वाले आरोपी की पहचान का दावा, जल्द हो सकती है गिरफ्तारी


जयपुर. शहर के शास्त्री नगर इलाके में 1 जुलाई को सात साल की बच्ची को अगवा कर दुष्कर्म की वारदात में लिप्त आरोपी की पहचान होना का दावा किया जा रहा है। संदिग्ध की पहचान भट्‌टा बस्ती निवासी सिकंदर उर्फ जीवाण उर्फ आरिफ के रुप में हुई है। बताया जा रहा है कि उसके खिलाफ मुरलीपुरा व विद्याधर नगर थाने में भी मुकदमे दर्ज है। वारदात के बाद शास्त्री नगर व भट्‌टा बस्ती में पिछले पांच दिन से तनावपूर्ण शांति है।

मंगलवार दोपहर 2 बजे से इंटरनेट सेवाओं पर लगाया गया अस्थाई रुप से प्रतिबंध शनिवार सुबह 10 बजे तक लागू रहेगा। ताकि शांति एवं कानून व्यवस्था बनी रह सके। किसी तरह की कोई अफवाह नहीं फैले। पुलिस उच्चाधिकारियों के अनुसार वारदात के बाद दुष्कर्म के आरोपी की तलाश के लिए क्राइम ब्रांच और कई थानों के स्पेशल पुलिसकर्मियों की टीमें लगा रखी थी।

जिन्होंने कई जगहों पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले। इलाके में रहने वाले ऐसे बदमाशों की गतिविधियों पर निगरानी रखी। जो कि वारदात के वक्त मौजूद थे और उसके बाद गायब चल रहे है। वहीं, सीसीटीवी फुटेज में आई रिकार्डिंग में भी आरोपी के हुलिए से भी बदमाशों की मिलान की जा रही है। बताया जा रहा है कि इसी बीच पुलिस ने शुक्रवार को दुष्कर्म के इस गंभीर केस में सिकंदर उर्फ जीवाणु नाम के एक संदिग्ध आरोपी को चिन्हित किया है।

जिसकी सरगर्मी से तलाश जारी है। बताया जा रहा है कि जल्द ही जीवाणु को पकड़ लिया जाएगा। इसके बाद उससे पूछताछ के  बाद साफ हो सकेगा कि दुष्कर्म की वारदात में कौन लिप्त था। पुलिस का कहना है कि दुष्कर्म पीड़िता बच्चियों से बातचीत कर पुलिस ने संदिग्ध का स्केच बनवाया। यह स्कैच भी जीवाणु उर्फ सिकंदर से मिलता जुलता है। इसी आधार पर पुलिस अब इलाके से गायब चल रहे जीवाणु की तलाश कर रही है।