भारत में हिंदू शब्द का जन्म नहीं हुआ, यह मुगलों ने दिया; अंग्रेजों ने इसे बढ़ाया: कमल हासन


अभिनेता से नेता बने कमल हासन ने एक बार फिर विवादास्पद बयान दिया। शनिवार को उन्होंने ट्वीट कर कहा कि हिंदू शब्द भारत का नहीं है। यह शब्द हमें मुगलों ने दिया और बाद में अंग्रेजों ने अपने राज के दौरान इसे बढ़ावा दिया। उन्होंने कहा कि पहली सदी के तमिल भारत के अलवार (वैष्णव) और नयनार (शैव) परंपरा ने भी कभी धर्म के लिए हिंदू शब्द का जिक्र नहीं किया।

हासन ने ट्विटर पर एक तमिल मुहावरा पोस्ट कर कहा कि समरसता से रहने में ही करोड़ों की भलाई है। इसके जरिए उन्होंने विचार रखा कि किसी राष्ट्र को धार्मिक आधार पर समेटना राजनीतिक, आध्यात्मिक और वाणिज्यिक तौर पर गलत है।

गोडसे पर बयान से विवादों में घिर गए थे हासन
इससे पहले हासन ने तमिलनाडु के अरावकुरिचि में चुनाव अभियान के दौरान विवादास्पद बयान दे दिया था। उन्होंने कहा था कि आजाद भारत का पहला आतंकी एक हिंदू था। उसका नाम नाथूराम गोडसे था। यहीं से आतंक की शुरुआत हुई थी। उनके इस बयान के बाद उनकी चौतरफा आलोचना हुई थी। वह नवंबर 2017 में भी हिंदू कट्टरवाद पर बयान देकर विवादों में आ चुके हैं।