15 दिन में चाैथी सामूहिक आत्महत्या, नाबालिग व युवक पेड़ पर फंदा बनाकर झूले


बाड़मेर जिले में आत्महत्याओं का दौर थम नहीं रहा है। लगभग रोज सुबह के साथ दुखभरी खबर सुनने को आ रही है। विशेषकर चौहटन में आत्महत्याओं का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। पिछले पंद्रह दिन में चौथी आत्महत्या की घटना हुई है। पांच बेटियों के साथ मां के पानी से भरे टांके में कूद आत्महत्या करने के बाद एक दिन पूर्व ही चिता को मुखाग्नि दी गई थी। छह अर्थियों की राख ठंडी ही नहीं हुई थी कि दूसरी सुबह एक और आत्महत्या ने फिर चौंका दिया।

शुक्रवार को गोहड़ का तला गांव में एक नाबालिग के साथ युवक ने पेड़ से लटक आत्महत्या कर ली। चौहटन के गोहड़ का तला में 17 वर्षीय बालिका और 20 वर्षीय ईशराराम पुत्र धर्माराम मेघवाल ने शुक्रवार तड़के 4 बजे जाल के पेड़ से फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना पर चौहटन डीएसपी अजीत सिंह, बिजराड़ थाना पुलिस पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सुपुर्द किए।

लड़की नाबालिग थी और युवक ट्रैक्टर ड्राइवर। चौहटन क्षेत्र में इन दिनों बारिश होने से ईशराराम ने गुरुवार को ट्रैक्टर से खेतों में खड़ाई की थी। इसके बाद रात को खाना खाने के बाद युवक घर से निकल गया। नाबालिग को भी फोन कर बुला लिया। इसके बाद शुक्रवार तड़के पेड़ से लटक कर दोनों ने एक साथ जान दे दी।

ये पंद्रह घटनाएं सिर्फ चौहटन क्षेत्र की

2019
26 जून:
 बावडी कला गांव में एक मां ने पांच बेटियों के साथ आत्महत्या की।
12 जून: लीलसर में प्रेमी युगल ने पिस्टल से गोली मार कर आत्महत्या की।
3 मई: चौहटन के केरानाडा में युवक ने आत्महत्या की।
4 मई: रामदेरिया-इसरोल में एक जने ने खेजड़ी ने लटक जान दी।
5 अप्रैल: सनाऊ सरहद रानीसर मे नाबालिग प्रेमी जोड़े ने आत्महत्या की।

2018 
अक्टूबर: आलमसर सरहद मे विवाहिता ने आत्महत्या की।
अगस्त: भलगाव मे युवती ने आत्महत्या की।
जून: ईटादा गांव मे प्रेमी जोड़े ने आत्महत्या की।
मई: शोभाला दर्शान में वृद्धा ने आत्महत्या की।
अप्रैल: सरूपे तला में 2 युवतियों ने एक प्रेमी के साथ आत्महत्या की।
मार्च: वेर का धान मार्ग पर की प्रेमी जोड़े ने आत्महत्या की।
फरवरी: श्रीराम वाला मे युवती ने आत्महत्या की।

2017 
सितम्बर: बूठ राठौड़ान में दलित महिला ने आत्महत्या की।
मई: नाइयों की ढाणी मे युवक ने आत्महत्या की।
मार्च: बिजराड़ में महिला ने तीन बच्चों के साथ टांके में कूद आत्महत्या की।