उपचुनाव में भाजपा ने खींवसर सीट हनुमान बेनिवाल की पार्टी आरएलपी के लिए छोड़ी, गठबंधन में लड़ेंगे


राजस्थान में होने वाले उपचुनाव में खींवसर सीट पर आरएलपी और भाजपा गठबंधन में चुनाव लड़ेंगी। जिसके चलते आरएलपी यहां से अपना उम्मीदवार उतारेगी। भाजपा के सतीश पूनिया और आरएलपी के हनुमान बेनिवाल ने एक संयुक्त प्रेस वार्ता में इस बात का ऐलान किया। सतीश पूनिया ने कहा कि चर्चा के बाद दोनों पाट्रियों में आपसी सहमती बनी है। वहीं मंडावा से भाजपा चुनाव लड़ेगी।

गठबंधन की औपचारिक घोषणा के दौरान बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण चतुर्वेदी, अशोक परनामी, नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ और आरएलपी के संयोजक हनुमान बेनीवाल मौजूद रहे।

बता दें कि 21 अक्टूबर को चुनाव होंगे। वहीं 24 अक्टूबर को परिणाम सामने आएंगे। देशभर की कुल 64 सीटों पर उपचुनाव की घोषणा की गई है। राजस्थान में मंडावा और खींवसर विधानसभा सीट पर उप चुनाव होना है।

लोकसभा चुनाव के बाद खाली हुई थी दोनों सीटें
2018 विधानसभा चुनाव में खींवसर से हनुमान बेनिवाल और मंडावा से नरेंद्र खींचड़ विधायक बने थे। जिसके बाद हनुमान बेनिवाल के नागौर सीट से और नरेंद्र खींचड़ के झुंझुनू सीट से लोकसभा चुनाव में जीत हासिल करने के बाद दोनों सीटें खाली हो गई थी। बता दें कि खींवसर सीट हनुमान बेनिवाल का गढ़ मानी जाती है। वे यहां से तीन बार विधायक भी रह चुके हैं। वहीं मंडावा सीट पर भी भाजपा का दबदबा रहा है।