भारत ने श्रीलंका को 93 रन से हराकर पहला टी20 जीता



भारत ने पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में आज यहां श्रीलंका को 93 रन से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में 1-0 से बढ़त बनायी। धोनी के विकेट के आगे और विकेट के पीछे के चिरपरिचित दिलकश प्रदर्शन तथा युजवेंद्र चहल की बलखाती गेंदों के करिश्मे से भारत ने आज यहां श्रीलंका को पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में 93 रन से करारी शिकस्त देकर तीन मैचों की श्रृंखला का जोरदार आगाज किया।

श्रीलंकाई टीम भारत के कलाईयों के स्पिनरों के जाल में बुरी तरह फंसकर 16 ओवर में 87 रन पर ढेर हो गयी। लेग स्पिनर चहल ने चार ओवर में 23 रन देकर चार जबकि चाइनामैन कुलदीप ने 18 रन देकर दो विकेट लिये। हार्दिक पंड्या ने पुछल्ले बल्लेबाजों पर कहर बरपाया और 29 रन देकर तीन विकेट लिये। धोनी ने दो कैच और दो स्टंप किये।

भारत की यह टी20 में रनों के लिहाज से सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले उसने 2012 में इंग्लैंड को कोलंबो में 90 रन से हराया था। इससे पहले टेस्ट और वनडे श्रृंखला गंवाने वाला श्रीलंका गेंदबाजी में बीच के ओवरों को छोडक़र किसी भी समय मुकाबले में नहीं दिखा। जयदेव उनादकट (सात रन देकर एक विकेट) ने पारी के दूसरे ओवर में ही निरोशन डिकवेला (13) को धीमी गेंद पर गच्चा देकर कैच देने के लिये मजबूर किया। यह उनका इस प्रारूप में पहला विकेट भी था। अच्छी फार्म में चल रहे उपुल थरंगा (16 गेंद पर 23 रन) खतरनाक मूड में दिख रहे थे। शायद यही वजह थी के रोहित शर्मा ने पांचवें ओवर में ही चहल को गेंद सौंप दी और यहीं से एकदम से कहानी बदल गयी।

थरंगा ने उन पर पहले स्क्वायर लेग पर चौका और छक्का लगाया लेकिन चहल विचलित नहीं हुए। वह इसी ओवर में बायें हाथ के इस बल्लेबाज को धोनी के हाथों कैच कराने में सफल रहे। चहल ने इसके बाद एंजेलो मैथ्यूज (एक), असेला गुणरत्ने (चार) और तिसारा परेरा (तीन) को भी पवेलियन भेजा।