भारत-जापान 2020 में होने वाले टोक्यो ओलंपिक में परस्पर सहयोग करेंगे



भारत और जापान 2020 में होने वाले टोक्यो ओलंपिक में अधिक से अधिक पदक जीतने के लिए विभिन्न्न खेलों में एक दूसरे की मदद करेंगे।

खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ और भारत में जापान के राजदूत केंजी हीरामात्सु ने यहां जापान-इंडिया स्पोर्टस एक्सजेंच टूवड्र्स 2020 ओलंपिक पैरालंपिक कार्यक्रम के दौरान टोक्यो ओलंपिक के लिए एक दूसरे की मदद करने की प्रतिबद्धता जताई। जापान की राजधानी टोक्यो में 2020 में 24 जुलाई से नौ अगस्त तक ओलंपिक खेल होंगे।

राठौड़ ने हाल ही में घोषणा की थी कि टोक्यो ओलंपिक, एशियाई खेलों और राष्ट्रमंडल खेलों की तैयारियों में लगे विशिष्ट खिलाड़ियों को खर्च के लिए हर महीने 50 हजार रूपये वजीफे के तौर पर दिया जाएगा। सरकार ने टारगेट ओलंपिक पोडियम यानि शीर्ष 152 खिलाड़ियों का चयन कर रखा है।

राठौड़ ने कहा, जूडो में विश्व का सबसे बेहतरीन देश जापान आज हमारे यहां हमें जूडो सिखाने आया हुआ है और दूसरे खेलों में हमारा साथ देने के लिए। पहले एशियाई खेलों में जापान 16 पदकों के साथ सबसे नंबर वन पर और था और तब से लेकर आठवें एशियाई खेलों तक वह नंबर वन पर रहा।

खेल मंत्री ने कहा, जापान से न केवल हम भारत की रक्षा के लिए बातचीत कर रहे और न केवल भारत की रेलवे के लिए बातचीत कर रहे हैं बल्कि हम अपने देश में खेलों को आगे बढ़ाने के लिए भी बातचीत कर रहे हैं।