कश्मीर पर चर्चा नहीं करेगा भारत, विकास, शांति और सुरक्षा पर केंद्रित होगा प्रधानमंत्री का संबोधन


संयुक्त राष्ट्र में भारत कश्मीर मुद्दे पर चर्चा नहीं करेगा। विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को ये जानकारी दी है। यूएन साधारण सभा की बैठक में दुनिया के एक ज़िम्मेदार सदस्य के तौर पर भारत विकास, शांति और सुरक्षा पर ही केंद्रित रहेगा।

विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा कि हमारे पास चर्चा के लिए कई मुद्दे हैं। आतंकवाद उनमें से एक है, लेकिन हमारा फोकस केवल इस पर नहीं है। संयुक्त राष्ट्र सभा वैश्विक मुद्दों पर बात करने के लिए एक उच्च स्तरीय मंच है। प्रधानमंत्री का भाषण एक ज़िम्मेदार देश के दौर पर विकास में भारत के योगदान, सुरक्षा और शांति पर केंद्रित रहेगा। प्रधानमंत्री इन मुद्दों पर हमारी अपेक्षाओं और दूसरे देशों की उम्मीदों पर बात करेंगे।

संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर मुद्दा उठाउंगा: पाकिस्तान

भारत पहले ही साफ कर चुका है कि जम्मू-कश्मीर से धारा 370 की समाप्ति देश का आंतरिक मामला है। भारत के रुख को सार्क समेत दुनिया के कई देशों का समर्थन मिल चुका है। पड़ोसी देश पाकिस्तान ने कहा है कि वह अगले सप्ताह संयुक्त राष्ट्र साधारण सभा की बैठक में कश्मीर मुद्दे को अभूतपूर्व ताकत के साथ उठाएगा।