भारतीय टीम के जबरदस्त ऑलराउंडर हार्दिक पाड्यां भी विवादों में


नई दिल्ली  टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी के विवाद के बाद अब एक बुरी खबर सामने आ रही है। भारतीय टीम के जबरदस्त ऑलराउंडर हार्दिक पाड्यां भी विवादों में आ चूके है। आपको बता दे कि हार्दिक पांड्या ने कुछ महीने पहले अपने ट्विटर अकाउंट से पोस्ट शेयर की थी। जिसमे हार्दिक पांड्या ने भारतीय संविधान निर्माता बी.आर अंबेडकर के खिलाफ अब शब्द कहे थे. इसी लिए अब जोधपुर की अदालत में एसएटी एक्ट के अनुसार हार्दिक पाडंया पर एफआईआर दर्ज करवाने के आदेश दे दिए गए है।

रिपोर्ट के अनुसार, एडवकेट मेघवाल कुछ समय पहले हार्दिक पांड्या के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाने के लिए थानेदार के पास गए थे। थानेदार ने कहा कि हम इतने बड़े क्रिकेट खिलाड़ी के खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं कर सकतें। इसके बाद ये एडवकेट सीधे अदालत चले गए और फिर अदालत ने हार्दिक पर केज दर्ज की मंजूरी दे दी है। साथ ही कोर्ट ने थानेदार के खिलाफ भी कार्यवाई करते हुए उसपर भी मुकदमा दर्ज करवा दिया है।

वहीं अब यह खुलासा हुआ है कि वह ट्वीट क्रिकेटर के आधिकारिक अकाउंट से नहीं किया गया था। ट्वीट में आंबेडकर की आलोचना की गई थी। यह ट्वीट @sirhardik3777 से किया गया जबकि पांड्या का आधिकारिक ट्विटर हैंडल @hardikpandya7 है। हालांकि, फेक अकाउंट फिलहाल डीएक्टिवेट या डिलीट कर दिया गया है।