हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश बने जस्टिस इंद्रजीत महांती, राज्यपाल कलराज मिश्र ने दिलाई शपथ

जयपुर. रविवार को न्यायधीश इंद्रजीत महांती ने राजस्थान हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस की शपथ ली। राज्यपाल कलराज मिश्र ने राजभवन में  उन्हें पद की शपथ दिलाई। केंद्रीय विधि एवं न्याय मंत्रालय ने गुरुवार को उनकी नियुक्ति का आदेश जारी किया था। वे राज्य के 37वें मुख्य न्यायाधीश हैं।

जस्टिस महांती ने मुख्य न्यायाधीश एस रविन्द्र भट्ट का स्थान लिया। इससे पहले जस्टिस महांती बॉम्बे हाईकोर्ट के सीनियर जज के पद पर कार्यरत थे। राजभवन में आयोजित समारोह में जस्टिस इंद्रजीत महांती की नियुक्ति का राष्ट्रपति रामनाथ कोविद की ओर से जारी वारंट पढ़ कर सुनाया गया। समारोह में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कैबिनेट के सदस्य समेत बड़ी संख्या में गणमान्य लोग मौजूद रहे।

जस्टिस इंद्रजीत महांती का जन्म 11 नवंबर, 1960 को उड़ीसा के कटक में हुआ। उन्होंने पश्चिम बंगाल के दार्जलिंग से स्कूली शिक्षा लेकर दिल्ली यूनिवर्सिटी से वकालत की पढ़ाई की। इसके बाद इंग्लैंड के केम्ब्रिज यूनिवर्सिटी से एलएलएम किया। वे 1989 से 2006 तक उड़ीसा बार काउंसिल के सदस्य रहे और 30 मार्च 2006 को उड़ीसा हाईकोर्ट में जज बने। महांती 14 नवंबर 2018 को बॉम्बे हाईकोर्ट में जज नियुक्त हुए थे।

SHARE