जायरा के बॉलीवुड छोड़ने के फैसले पर कश्मीरी बैकड्रॉप के एक्टर बोले- बेअसर रहेंगे घाटी के युवा


जायरा वसीम ने बॉलीवुड को अलविदा कह दिया है। अब सवाल यह है कि क्या उनके इस फैसले से वहां के युवा बॉलीवुड में कॅरिअर बनाने को लेकर हतोत्साहित होंगे? इस सवाल को लेकर भास्कर ने कश्मीरी बैकड्रॉप वाले कुछ कलाकारों से बात की। जानिए उन्होंने क्या कहा…

हमारे असल हीरो तो शाह फैजल हैं: ए वेडनसडे फेम एक्टर आमिर

  1. कश्मीरी युवाओं के लिए असल हीरो शाह फैजल हैं। वो आराम की नौकरी छोड़ एक्टिव पॉलिटिक्स में आ गए। बाकी जहां तक बात है जायरा की तो मेरे ख्याल से यह उनका निजी फैसला है। मुझे नहीं लगता कि जायरा ने चरमपंथी संगठनों के दबाव में आकर यह फैसला लिया है। चरमपंथियों का इतना ही दबदबा होता तो वहां उनकी सरकार होती। इस पर इतने शोर शराबे की कोई वजह नहीं।’

  2. कश्मीरी यूथ डिमॉरलाइज नहीं होगा: दासदेव फेम एक्टर राहुल भट्ट

    कश्मीरी यूथ इस घटना से कतई डिमॉरलाइज नहीं होगा। रहा सवाल इस्लाम का तो इस्लामिक कंट्रीज से ताल्लुक रखने वाले माजिद मजीदी और असगर फरहादी से बड़े फिल्मकार कहां कोई हैं? तो जायरा का बॉलीवुड छोड़ने को लेकर इस्लाम का हवाला देना समझ से परे है। रही बात शाह फैजल की तो उनके अपने पॉलिटिकल एंबीशंस थे। ब्यूरोक्रेसी के साथ पॉलिटिक्स में भी इंटेलिजेंट लोग जितने आएं, उतना अच्छा है।’