संविदा पर लगे लेब तकनीशयन एवं लेब सहायक कर्मचारी हड़ताल पर उतरे



जोधपुर। महात्मा गांधी अस्पताल में संविदा पर लगे लेब तकनीशयन एवं लेब सहायक कर्मचारियों ने दो माह का वेतन नहीं मिलने के कारण सोमवार अपना काम छोड़कर हड़ताल पर उतर गए। इन ठेकाकर्मियों का आरोप है कि वे लेब तकनीशयन एवं लेब सहायक के तौर पर संविदा पर कई सालों से सेवायें दे रहे है इसके बावजूद भी पिछले कई महिनों से वर्तमान ठेकेदार समय पर वेतन का भुगतान नहीं कर रहा है। अल्प वेतन भोगी होने के बावजूद समय पर वेतन नहीं मिलने से उनकी आर्थिक स्थिति बिगड़ी हुई है। फरवरी माह का वेतन अभी तक मिला नहीं है और मार्च का वेतन मिलाकर 15 अप्रेल तक देने को ठेकेदार कह रहा है जबकि उक्त ठेकेदार की ओर से पूर्व में दिये गये चैक भी बाउंस हो चुके है। तथा वर्तमान ठेकेदार का कार्यकाल 30 मार्च को समाप्त होने जा रहा है। इससे पूर्व वित्त वर्ष में जो ठेका फर्म राजावात एंटरप्राइजेज थी उसका भी तीन तीन माह का वेतन कुछ कर्मचारियों का बकाया चल रहा है।
उक्त ठेकेदार ठेके पर रखे कर्मचारियों से पीएफ और ईएसआई मद में राशि तो वेतन में से काट रहा है लेकिन उसका कोई हिसाब या रसीद भी कर्मचारियों को नहीं दे रहा है। आज सुबह पूर्व घोषणा के अनुसार उक्त कर्मचारियों ने काम शुरू ही नही किया और काम छोड़कर पोर्च में प्रदर्शन करना शुरू कर दिया।
अस्पताल अधीक्षक को सूचित करने के बावजूद न तो ठेकेदार और नहीं अस्पताल प्रशासन ने उक्त संविदा कर्मियों की समस्याओं का निराकरण किया जिसके चलते पूर्व घोषणा के अनुसार उन्होंने काम छोड़ दिया जिसका सीधा असर अस्पताल में आने वाले मरीजों के उपचार व्यवस्था पर पड़ा।