जानिए! आखिर क्यों ब्रह्मा जी का भी एक बार शिवजी ने संहार किया



शास्त्रों के अनुसार ब्रह्मा जी ने इस सृष्टि का निर्माण किया है और भगवान शिव इस सृष्टि का संहारक हैं क्या आप जानते हैं सृष्टि का निर्माण करने वाले ब्रह्मा जी का भी एक बार शिवजी ने संहार किया था। इस कथा का शिव के सात रहस्य किताब में वर्णन मिलता है। आइए विस्तार से जानते हैं इस कथा के बारे में ……

पुस्तक में वर्णित कथा के अनुसार एक बार ब्रह्मा ने शतरूपा या सरस्वती नाम की एक कन्या की उत्पत्ति की, ब्रह्मा से उत्पन्न होने के कारण ये कन्या ब्रह्मा जी की पुत्री कहलाई लेकिन ब्रह्मा जी अपनी इस पुत्री के रूप को देखकर मोहित हो गए और उसके पीछे पड़ गए।

शतरूपा ने ब्रह्मा से बचने के अनेक प्रयास किए लेकिन वो असफल रही। जब इस बारे में भगवान शिव को ज्ञात हुआ तो वे बहुत क्रोधित हुए और ब्रह्मा जी का सिर धड़ से अलग कर दिया।

मतस्य पुराण के अनुसार पहले ब्रह्म जी के पांच सिर थे और एक सिर कटने के बाद उनके केवल चार मुख ही रह गए।