इन तीन चीजों से भगवान गणेश होते हैं प्रसन्न



जैसा कि सभी जानते हैं कि संकष्टी चतुर्थी ईश्वर गणेश की पूजा का विशेष दिन होता है। हिंदू पंचाग के अनुसार ये संकष्टी हर माह कृष्ण पक्ष व शुक्ल पक्ष के चौथे दिन आती है। शुक्ल पक्ष में आने वाली चतुर्थी को विनायक चतुर्थी व कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को संकष्टी चतुर्थी बोला जाता है। अगर किसी माह संकष्टी चतुर्थी मंगलवार के दिन पड़ती है तो उसे अंगारकी चतुर्थी के नाम से जाना जाता है। इस दिन लोग सूर्योदय से लेकर चंद्रोदय तक व्रत करते हैं।

मान्यता है कि चतुर्थी के दिन ईश्वर गणेश की पूजा व उनका व्रत करना बहुत फलदायी होता है। लेकिन इस बार अधिक मास होने से इस चतुर्थी का खास महत्व हो गया है। अधिक मास की यह चतुर्थी आज दो जून को है । श्री गणेश के भक्त आज पूरी श्रद्धा के साथ यह व्रत रखेंगे । लेकिन क्याआपको पता है कि इस दिन ईश्वर श्रीगणेश की पूजा में 3 खास चीजें चढ़ाना बहुत शुभ होता है । आइये जानते हैं ये तीन वस्तु क्या हैं , जिनसे श्री गणेश प्रसन्न होते हैं ।

मोदक: श्रीगणेश को मोदक विशेष प्रिय है । मोदक का भोग लगाने से श्रीगणेश प्रसन्न होते हैं व अपने भक्तों की हर मनोकामना पूरी करते हैं । इसलिए चतुर्थी तिथि पर ईश्वर श्रीगणेश को मोदक का भोग लगाना चाहिए ।

दूर्वा: ईश्वर श्रीगणेश को दूर्वा अतिप्रिय है । इसलिए जो कोई दूर्वा अर्पित करता है, उसकी सभी परेशानियां दूर हो जाती हैं व ज़िंदगी में खुशहाली बनी रहती है । लेकिन इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि दूर्वा स्वच्छ जगह से ली गई हो ।

पान: मीठा पान भी श्रीगणेश की पूजा में चढ़ाया जाता है । इससे भी उनकी कृपा अपने भक्तों पर बनी रहती है । इससे दांपत्य ज़िंदगी में मधुरता बनी रहती है । इसलिए पूजा में पान जरूर चढ़ाना चाहिए । इसके अतिरिक्त ईश्वर गणेश की विधिवत पूजा कर गणेश अथर्व शीर्ष का पाठ भी किया जाए तो अतीव फायदेमंद होता है ।