माहेश्वरी ने की गहलोत से मुलाकात, प्रदेश के विभिन्न मसलो पर की चर्चा



जयपुर। राजस्थान की उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने सोमवार को नई दिल्ली में केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत और मानव संसाधन मंत्रालय में उच्च शिक्षा सचिव केवल कुमार शर्मा से प्रदेश के विभिन्न मसलो पर चर्चा की।
उन्होंने केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत से वार्ता कर राज्य के राजसमन्द जिले में एक दिव्यांग मेला आयोजित करवाने और जगजीवन राम गर्ल्स होस्टल के लिए विशेष अनुदान दिलवाने की मांग रखी।उन्होंने केंद्रीय उच्च शिक्षा सचिव केवल कुमार शर्मा से भेट कर राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान(रूसा) के अन्तर्गत प्रदेश के 96 और कॉलेज में आधारभूत सुविधाओं के विस्तार के लिए दो-दो करोड़ रु.की ग्रांट मंजूर करवाने का आग्रह किया। उन्होंने बताया कि पहले राज्य के 102 महाविद्यालयों को ऐसी मंजूरी मिल चुकी है।माहेश्वरी ने प्रदेश के पांच विश्व विद्यालयों जयपुर, जोधपुर, कोटा, अजमेर व उदयपुर में रूसा के तहत पहले चरण में दिए गए 20-20 करोड़ रु.की राशि की तरह ही मंजूरी प्रदान करने पर सहमति देने के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि उदयपुर व अजमेर यूनिवर्सिटी की यू सी शीघ्र भिजवा दी जायेगी। साथ ही कॉलेज शिक्षकों के लिए दी गई छठे वेतनमान की बकाया 130 करोड़ की ग्रांट जारी करवाने का आग्रह भी किया।माहेश्वरी ने प्रदेश के 219 महाविद्यालयों में प. दीनदयाल उपाध्याय कौशल विकास योजना शुरू करवाने के लिए भी चर्चा की। केंद्रीय सचिव ने इस पर सैद्धान्तिक सहमति देते हुए महाविद्यालयों से ऑनलाइन आवेदन करवाने को कहा। उपराष्ट्रपति से शिष्टाचार भेट माहेश्वरी ने इससे पूर्व उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू से शिष्टाचार भेंट कर उन्हें आगामी 21 व 22 दिसम्बर को जयपुर में होने वाले विश्व विद्यालयों के एच आर प्रमुखों के सम्मेलन के लिए आमंत्रित किया।