निजी सुरक्षा एजेन्सियों द्वारा लगाये गये सुरक्षा कर्मियों को भी मिले न्यूनतम मजदूरी -गृहमंत्री



जयपुर। गृहमंत्री श्री गुलाबचन्द कटारिया ने कहा कि प्रदेश में विभिन्न निजी सुरक्षा एजेन्सियों द्वारा लगाये गये सुरक्षा कर्मियों को न्यूनतम मजदूरी दिया जाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने होमगार्डस में रिक्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों के पदों को भरने के लिए यथाशीघ्र कार्यवाही करने के निर्देश दिये है।
श्री कटारिया मगंलवार को मध्यान्ह शासन सचिवालय स्थित अपने कार्यालय में होमगार्डस विभाग की मासिक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह श्री दीपक उपे्रती एवं महानिदेशक, गृहरक्षा श्री नवदीप सिंह सहित सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित थे।
गृहमंत्री ने शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में होमगार्डस की संख्या एवं उनके नियोजन की स्थिति की विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने होमगार्डस के नियोजन को बढाने के लिए आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। उन्होंने निजी सुरक्षा एजेन्सियों द्वारा नियोजित किये जा रहे कुल सुरक्षा कर्मियों में से 25 प्रतिशत सुरक्षा कर्मी होमगार्डस के लिए जाने के सम्बन्ध में आवश्यक कार्यवाही करने के भी निर्देश दिये।
श्री कटारिया ने अन्य राज्यों के चुनाव में नियोजित बोर्डर होमगार्डस के बकाया भुगतान की विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने राजस्थान गृह रक्षा अधीनस्थ सेवा नियम के अनुमोदन की प्रगति की जानकारी ली एवं इनके शीघ्र अनुमोदन कर इन्हे लागू करने की आवश्यकता प्रतिपादित की। उन्होंने विधानसभा के बजट सत्र के दौरान होमगार्डस के बारे में की गई घोषणाओं के क्रियान्वयन की विस्तार से समीक्षा की एवं इन्हें शीघ्र क्रियान्वित करने के निर्देश दिये।

गृहमंत्री ने सीमा गृह रक्षा (बॉर्डर होमगार्डस) के नियोजन की भी समीक्षा की। बैठक में बताया गया कि वर्तमान में सीमा गृहरक्षा में कुल 967 होमगार्डस नियोजित है। इनमें से 283 बाडमेर, 258 जैसलमेर, 237 बीकानेर एवं 209 गंगानगर में नियोजित है।