शिक्षा राज्य मंत्री ने किया स्वामी विवेकानन्द राजकीय मॉडल स्कूल का उद्घाटन


जयपुर। राज्य सरकार शिक्षा का कायाकल्प करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। शिक्षा को लेकर जितने अभिनव प्रयोग राजस्थान में हुए वो कहीं नहीं। परिणाम सामने हैं कि सभी जिला शिक्षा अधिकारियों के पद भरे हुए हैं, वहीं रिकार्ड 1 लाख 9 हजार अध्यापको को पदोन्नति दी गई हैं।
सोमवार को भदेसर में स्वामी विवेकानन्द राजकीय मॉडल स्कूल के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि राज्य सरकार ने विगत 4 वर्षो में 87 हजार नियुक्तियां केवल शिक्षा विभाग में की हैं। राज्य सरकार का प्रयास हैं कि बच्चे देश के गौरवशाली इतिहास से परिचित हो। उन्होंने कहा कि भारत विश्व गुरू था कि हमारी सोच में परिवर्तन करते हुए हमें मानना पडेगा की अभी भी भारत विश्व गुरू हैं और आगे भी रहेगा।
सांसद सी.पी. जोशी ने समारोह को संबोधित करते हुए  कहा कि भदेसर ब्लॉक भदेसर में शिक्षा के मंदिर का भव्य भवन बना है इसमें ग्रामीण परिवेश का हर बच्चा विद्यालय अग्रेजी माध्यम में पढ़ सकेगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री एवं जिला कलक्टर के प्रयासों से शिक्षा के क्षेत्र में कई नवाचार हुए है। मुख्यमंत्री ने हर पंचायत में 12 वी तक के स्कूल क्रमोन्नत किये है, इसी कारण  विद्यालय में नामांकन बढ़ा है एवं बच्चों का स्कूलों में ठहराव होने लगा है। उन्होंने कहा कि सरकार ने शिक्षा के क्षेत्र में कई कार्य हुए हैै। इतिहास में महाराणा प्रताप का पाठ पढ़ाना शुरू किया है। उन्होंने राजश्री योजना, बेटी बचाओ बेटी पढ़ ओं, सुकन्या योजना के बारें में जानकारी दी। समारोह को चित्तौड़गढ़ विधायक चन्द्रभान सिंह आक्या एवं बेगूं विधायक सुरेश धाकड़ ने समारोह को संबोधित किया।
इस अवसर पर रतनलाल गाडरी, शिक्षा विभाग के आला अधिकारी और गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।