देश में मोबाइल धारकों की संख्या 1 अरब 5 करोड़ के करीब



इस वर्ष अप्रैल में देश में मोबाइल धारकों की संख्या बढ़कर एक अरब चार करोड़ 90 लाख के पार पहुंच गयी। दूरसंचार कंपनियों, इंटरनेट, प्रौद्योगिकी और डिजिटल सेवायें देने वाली कंपनियों के शीर्ष संगठन सीओएआई द्वारा यहां जारी मासिक आँकड़ों के अनुसार मार्च 2018 में देश में एक अरब चार करोड़ मोबाइल ग्राहक थे जिनकी संख्या इस वर्ष अप्रैल में 93 लाख से अधिक बढ़कर एक करोड़ चार अरब 93 लाख से ज्यादा हो चुकी है। उसने कहा कि मार्च के आँकड़े में एयरसेल, रिलांयस जियो, एमटीएनएल और टेलीनॉर के ग्राहकों को लेकर ट्राई द्वारा जारी आँकड़े शामिल है। सीओएआई ने कहा कि एयरसेल, रिलायंस कम्युनिकेशंस, रिलायंस जियो, भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) और एमटीएनएल की मासिक ग्राहक संख्या सीधे उसके पास नहीं आती है। दूरसंचार नियामक ट्राई द्वारा मार्च महीने के जारी उनके आँकड़े इसमें शामिल हैं। इसलिए ग्राहकों की संख्या के अंतिम आँकड़ों में कुछ बदलाव हो सकता है। संगठन के अनुसार, भारती एयरटेल 30.86 करोड़ ग्राहकों के साथ देश की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी बनी हुयी है। अप्रैल में उसने 45 लाख नये ग्राहक जोड़े हैं।

इसके बाद 22.20 करोड़ ग्राहकों के साथ वोडाफोन इंडिया दूसरे स्थान पर है। आइडिया सेलुलर अप्रैल में 55 लाख से अधिक ग्राहकों को जोड़कर 21.67 करोड़ ग्राहकों के साथ तीसरी बड़ी कंपनी बनी रही है।