पुलिस ने कहा- सुनंदा पुष्कर के शव पर चोट के 15 निशान थे, वे मानसिक तनाव में थीं


दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को कोर्ट को बताया कि कांग्रेस नेता शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर के शव पर चोट के 15 निशान थे। सुनंदा 2014 में एक होटल के कमरे में मृत मिली थीं। शादीशुदा जीवन में चल रहे तनाव के चलते सुनंदा मानसिक तनाव से गुजर रही थीं।

पुलिस ने जानकारी कोर्ट के सामने रखी: रिपोर्ट

  1. पुलिस ने शशि थरूर पर उनकी पत्नी सुनंदा को परेशान करने और आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री फिलहाल इस मामले में जमानत पर है। पुलिस ने थरूर के खिलाफ आरोप तय किए जाने के दौरान यह जानकारी कोर्ट के सामने रखी।
  2. पुलिस ने विशेष जज अजय कुमार कुहार से कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक पुष्कर की मौत जहर से हुई। उनके शव पर चोट के 15 निशान थे। विशेष वकील अतुल श्रीवास्तव ने कहा कि वे अवसाद में थीं। मानसिक यातना से गुजर रही थीं, इसलिए उन्होंने आत्महत्या जैसा कदम उठाया।
  3. वकील ने कोर्ट से कहा कि सुनंदा, थरूर और पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार के कथित रिश्ते को लेकर भी परेशान थीं। वकील ने पुष्कर की मित्र और पत्रकार नलिनी सिंह के बयान को भी रखा। सिंह के मुताबिक थरूर और सुनंदा के बीच तनाव था। दोनों का रिश्ता बहुत बुरे दौर में था।
  4. सिंह ने कहा- जब मुझे सुनंदा का फोन आया, तब वह रो रही थी।वह थरूर और मेहर से बदला लेना चाहती थी। उसे दोनों के कुछ मैसेज मिले थे। इसके बाद से वह परेशान थी। इसलिए वह घर जाने के बजाए होटल लीला में रूकी थी। इस मामले को लेकर मीडिया में गलत पब्लिसिटी भी हुई थी।
  5. वकील ने कोर्ट को बताया कि एक ईमेल मिला है, जो थरूर ने लिखा है। इसमें उन्होंने मेहर को मेरी प्यारी लिखकर संबोधित किया है। इस तरह की भाषा का इस्तेमाल किया गया था। कई पत्र भी मिले जो यह बताते हैं कि थरूर और मेहर का रिश्ता करीब का था।
  6. थरूर की ओर सो वरिष्ठ वकील विकास पाहवा पैरवी कर रहे हैं। उन्होंने इन तमाम आरोपों का खंडन किया। उन्होंने कोर्ट से कहा कि मुझे इन ईमेल्स के बारे में कोई जानकारी नहीं है। इस मामले की अगली सुनवाई 31 अगस्त को होगी।