राहुल इस महीने के आखिर में अमेठी जा सकते हैं, चुनाव हारने के बाद पहला दौरा


कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जून के आखिर में उत्तर प्रदेश के अमेठी का दौरा कर सकते हैं। अपनी परंपरागत सीट अमेठी से मिली हार के बाद यह उनका पहला दौरा है। अमेठी से तीन बार सांसद रहे राहुल को इस लोकसभा सीट से पहली बार हार मिली। उन्हें भाजपा की प्रत्याशी स्मृति ईरानी ने 55,120 वोटों से हराया।

राहुल इस बार दो सीटों से चुनाव लड़े थे। अमेठी के अलावा राहुल केरल के वायनाड से चुनाव लड़े थे और जीत दर्ज की। राहुल ने वायनाड सीट से एलडीएफ के पीपी सुनीर को 4,31,063 वोटों से हराया। राहुल ने सोमवार को सांसद के तौर पर शपथ ली।

2004, 2009 और 2014 में अमेठी से चुनाव जीत चुके हैं राहुल

राहुल ने पहली बार अमेठी से 2004 में चुनाव लड़ा और जीते। वे 2009 और 2014 में भी यहां से सांसद चुने गए। इस बार उन्हें अपनी परंपरागत सीट से हार का सामना करना पड़ा।

पार्टी कर चुकी है राहुल के हार की समीक्षा

राहुल को अमेठी में मिली हार की पार्टी समीक्षा कर चुकी है। सोनिया गांधी के प्रतिनिधि किशोरी लाल शर्मा और प्रियंका गांधी का राजनीतिक कामकाज देखने वाले जुबैर खान ने तीन दिन तक अमेठी रह कर हार की समीक्षा की थी।