राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत और उनका बेटा वैभव गहलोत कोरोना संक्रमित



जयपुर, एएनआइ। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उनका बेटा व कांग्रेस नेता वैभव गहलोत कोरोना संक्रमित हो गए हैं। वीरवार को अशोक गहलोत ने ट्वीट में लिखा कि मैंने अपना कोविड टेस्ट करवाया जो पाजिटिव आया है। मेरे बेहद हल्के लक्षण हैं एवं कोई अन्य परेशानी नहीं है। मेरे संपर्क में आए सभी लोगों से निवेदन है कि वे स्वयं को आइसोलेट कर लें एवं अपना कोविड टेस्ट अवश्य करवाएं। इस बीच, वैभव गहलोत ने बताया कि वह बिना लक्षण वाले हैं और डाक्टर की सलाह के अनुसार, सभी कोरोना प्रोटोकाल को अपनाते हुए घर पर आराम कर रहे हैं। वैभव गहलोत ने कहा कि मैंने कोरोना की जांच कराई, मेरी रिपोर्ट संक्रमित है। मैं डाक्टर की सलाह के अनुसार, सभी कोविड प्रोटोकाल को अपनाते हुए घर पर आराम कर रहा हूं। जनता से मेरी अपील है कि वे चिंतित न हों और कोविड के उचित व्यवहार का पालन करें। वैभव गहलोत राजस्थान क्रिकेट संघ (आरसीए) के अध्यक्ष भी हैं।

गौरतलब है कि राजस्थान में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 1883 संक्रमित मिले हैं। इधर, ओमिक्रोन के 62 रोगी राज्य में मिले हैं। जयपुर में ओमिक्रोन के 52, कोटा में दो व हनुमानगढ़, भरतपुर, सीकर व अलवर में ओमिक्रोन का एक-एक मामला मिला है। इस बीच, कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे ज्यादा 1138 जयपुर जिले में मिले हैं। दूसरे नंबर पर जोधपुर है, जहां 230 कोरोना वायरस संक्रमित मिले हैं। जयपुर और जोधपुर में कोरोना वायरस संक्रमण से एक-एक की मौत हुई है। वर्तमान में कोरोना वायरस के 5016 एक्टिव रोगी हैं। प्रदेश में अब तक ओमिक्रोन के 236 मामले मिले हैं। वहीं, अस्पतालों में उपचार के बाद 48 लोग बुधवार को स्वस्थ हुए हैं। उधर, शासन सचिवालय में तैनात भारतीय प्रशासनिक सेवा के (आइएएस) दो और राज्य प्रशासनिक सेवा के तीन अधिकारी कोरोना संक्रमित मिले हैं। सचिवालय में दो दिन में 24 अधिकारी व कर्मचारी संक्रमित मिले हैं। बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के बीच राजस्थान हाई कोर्ट ने 14 जनवरी तक वर्चुअल सुनवाई करने का निर्णय लिया गया है। निचली अदालतों में भी यह आदेश लागू होगा। कोरोना वायरस संक्रमण के कारण राज्य के प्रमुख धार्मिक स्थल खाटूश्याम मंदिर में रविवार, एकादशी और द्वादशी पर आम लोगों के दर्शनों पर रोक लगा दी गई है।