राजनाथ ने कहा- आतंकवाद का कारण अनुच्छेद 370 था; अब देखते हैं, कश्मीर में कितने आतंकी पैदा होते हैं?


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को कहा कि कश्मीर में आतंकवाद को जन्म देने में अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35ए की बड़ी भूमिका रही। इसने कश्मीर को रक्तरंजित कर दिया था। रक्षा मंत्री ने कहा कि अब देखते हैं कि पाकिस्तान में कितनी हिम्मत है और कश्मीर में कितने आतंकवादी पैदा होते हैं?

राजनाथ ने कहा- अनुच्छेद 370 हमारे संविधान के लिए एक नासूर बन चुका था। इसने हमारे हृदय और हमारे कश्मीर को तबाह कर दिया था। हर कोई सपना देखता है। लोग कहते हैं कि उनके पास भी सपना है, लेकिन वह पूरा नहीं हो सकता। हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे पूरा कर दिया और दिखा दिया कि अगर हम आंखें खोलकर सपना देखें तो इसे हकीकत में बदल सकते हैं।

पाकिस्तान फिर दो टुकड़ों में बंट जाएगा: राजनाथ

उन्होंने कहा, “आप देख सकते हैं कि वे हतोत्साहित हो रहे हैं। पाक प्रधानमंत्री पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर आते हैं और वहां के लोगों से सीमा पर नहीं जाने की बात कहते हैं। वे ऐसा बोलकर अच्छा करते हैं क्योंकि अगर वे आ गए तो फिर भारत से वापस नहीं जा पाएंगे। उन्हें 1965 और 1971 को दोहराने की गलती नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि वे इसे दोहराते हैं तो उन्हें सोचना चाहिए कि पाक के कब्जे वाला कश्मीर क्या बन जाएगा। वहां पर बलूच और पश्तून के खिलाफ मानवाधिकार का उल्लंघन हो रहा है। यदि यह लगातार दोहराया जाता है तो पाकिस्तान को दो टुकड़ों में बंटने से कोई ताकत नहीं रोक सकती।”