मोबाइल हैल्थ टीमों द्वारा किये जा रहे कार्यों की विस्तार से की समीक्षा



वीडियो कांफ्रेंसिंग – राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम 
जयपुर। स्वास्थ्य सचिव एवं मिशन निदेशक एनएचएम श्री नवीन जैन ने मंगलवार को स्वास्थ्य भवन में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के सभी उपखण्डों में गठित मोबाइल हैल्थ टीमों द्वारा किये जा रहे कार्यों की विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने हैल्थ टीमों द्वारा की जा रहै हैल्थ स्क्रीनिंग, उच्च चिकित्सा संस्थानों एवं चिन्हित निजी चिकित्सा संस्थानों को रेफर किए गए केसेज के समुचित फोलोअप पर वीसी में मौजूद सभी उपखण्डों के मोबाइल हैल्थ टीम सदस्यों से चर्चा कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।
श्री जैन ने प्रदेश के आंगनबाड़ी केन्द्रों, स्कूलों एवं मदरसों में आने वाले बच्चों के नियमित स्वास्थ्य परीक्षण, उनके रैफरल व फोलोअप कार्य में अच्छा प्रदर्शन करने वाली टीमों की सराहना करते हुये कम प्रगति वाले जिलों को उनसे प्रेरणा लेते हुये सघन माईक्रोप्लान बनाकर कार्य करने के निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम अत्यंत महत्वपूर्ण कार्यक्रम है। इस कार्यक्रम के तहत प्रदेश के 18 वर्ष तक के सभी बच्चों का मोबाइल हैल्थ टीमों द्वारा चिकित्सा संस्थानों, राजकीय विद्यालयों एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों पर हैल्थ स्क्रीनिंग कर आवश्यकता अनुसार रैफरल कर विशेषज्ञ उपचार उच्चतर संस्थानों पर निःशुल्क करवाया जाता है।
मिशन निदेशक ने बताया कि इस बार गत वर्ष छूटे स्कूलों को पर विशेष ध्यान देते हुये माईक्रोप्लान बनाकर हैल्थ स्क्रीनिंग हेतु निर्देशित किया। साथ ही उन्होंने इस बार कुपोषित बच्चों की स्क्रीनिंग एवं उनके उपचार हेतु कुपोषण उपचार केन्द्रों पर रैफरल करने पर विशेष ध्यान देने के भी निर्देश दिये। उन्होंने सभी जिलों पर स्थापित किये गये डिस्टि्रक्ट अर्ली इन्टरवेंशन सेंटर्स को एक समन्वय स्थल के रूप में काम में लेने की आवश्यकता प्रतिपादित की।
आरबीएसके टीम करेंगी बीएसबीवाई का प्रचार-प्रचार
मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्टेट हैल्थ एश्योरेंस ऎजेंसी ने सभी जिला प्रजनन एवं शिशु स्वास्थ्य अधिकारियों को प्रदेशभर में संचालित किये जा रहे न्याय आपके द्वार अभियान शिविरों में आरबीएसके टीमों द्वारा भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के प्रचार-प्रचार, आमजन में योजना का फीडबैक एवं आवश्यक सुझाव हेतु माईक्रोप्लान बनाकर कार्य करने के निर्देश दिये। उन्होंने इस कार्य हेतु वीसी में विस्तार से जानकारी प्रदान की।
समीक्षा बैठक में स्टेट हैल्थ एश्योरेंस एजेंसी के संयुक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री आशीष मोदी,  परियोजना निदेशक शिशु स्वास्थ्य डॉ. रोमेल सिंह, परियोजना निदेशक आरबीएसके डॉ. सुआलाल सहित संबंधित अधिकारीगण मौजूद थे।