शब-ए-बरात कल, जामा मस्जिद में होगा भव्य समारोह : शाही इमाम



आज यहां पंजाब के दीनी मरकज जामा मस्जिद लुधियाना से पंजाब के शाही इमाम मौलाना हबीब-उर-रहमान सानी लुधियानवी ने ऐलान किया कि शब-ए-बरात का पवित्र त्यौहार 1 मई का दिन गुजार कर आने वाली रात को मनाया जायेगा। उन्होंने बताया कि इस पवित्र अवसर पर जामा मस्जिद लुधियाना के बाहर एक धार्मिक समारोह का आयोजन भी किया जायेगा, जिसमें मुस्लिम भाईचारे के लोग बढ़चढ़ हिस्सा लें। इस मौके पर शाही इमाम पंजाब ने अपने संदेश में कहा कि शब-ए-बरात की रात अल्लाह से मांगी जाने वाली सभी दुआएं कबूल होती हैं।उन्होंने मुसलमानों से अपील की कि आज की रात पूरी इंसानियत की भलाई के लिए खास दुआएं मांगें। शाही इमाम ने शब-ए-बरात की रात की महत्त्वता के बारे में बताया कि शब-ए-बरात की रात बड़ी बरकतों और रहमतों वाली रात है। इस रात अल्लाह पाक सातवें आसमान पर तशरीफ ले आते हैं और सारी रात यह ऐलान किया जाता है कि है कोई जो मुझ से अपने लिये रिज्जक मांगे, अपने मां-बाप के लिए, अपनी औलाद के लिए और जिसको जिस चीज की जरूरत है वह भी आज की रात मुझ से मांग ले, मैं (अल्लाह) उसको दे दूंगा। शाही इमाम ने कहा कि शब-ए-बरात की रात हर मुसलमान को चाहिए कि वह ज्यादा से ज्यादा कुरान शरीफ पढ़े और अल्लाह के दरबार में जाकर अपने गुनाहों की माफी मांगें तथा अच्छे काम करने का संकल्प ले। उन्होंने बताया कि आज की रात अल्लाह पाक पूरी दुनिया के इंसानों की किस्मत का फैसला करते हैं और जो व्यक्ति इस रात अपने खुदा से जो कुछ भी मांगता है, अल्लाह के दरबार से उसको खाली नहीं लौटाया जाता। शाही इमाम ने कहा कि इस दिन हमें दिल खोलकर गरीबों की सहायता करनी चाहिए, यातिमों को अच्छा खाना खिलाना चाहिए और जरूरतमंद व्यक्तियों की जरूरत को पूरा करने की कोशिश करनी चाहिए।