वैसाख कृष्णपक्ष चतुर्दशी पर करें शिव पूजा, मिलेगा ग्रहों के दुष्प्रभाव से छुटकारा



आज रविवार 15.04.18 को वैसाख माह के कृष्णपक्ष की चतुर्दशी पर रेवती नक्षत्र चतुष्पादकरण व वैधृति योग में भगवान शिव की पूजा की जाएगी। आज भगवान शिव की पूजा व उपाय करने से मृत्यु के भय से मुक्ति, ग्रहों के दुष्प्रभाव से छुटकारा मिलता है।

पू जा विधि – सुबह शिवलिंग का पंचोपचार पूजन करें। शुद्ध घी का दीप जलाए, सुगंधित धूप जलाए, लाल कनेर का फूल चढ़ाएं, रक्त चंदन से त्रिपुंड बनाएं, सेब का फल चढ़ाएं, गुड़ का भोग लगाएं तथा पूजा के बाद फल गरीबों में बांट दें।

मंत्र – ह्रीं मतंगेश्वराय नमः॥ इस मंत्र का जाप करें।

उपाय

  • शिवलिंग पर गुड़ की चाशनी चढ़ाने से मृत्यु के भय से मुक्ति मिलती है।
  • शिवलिंग पर आम का रस चढ़ाने से सारी इच्छाओं की पूर्ति होती है।
  • शिवलिंग पर नवधान चढ़ा कर पक्षियों को खिलाने से ग्रहों के दुष्प्रभाव से छुटकारा मिलता है।