सीकर में मदनलाल सैनी को बेटे ने दी मुखाग्नि, सीएम गहलोत समेत कई नेताओं ने दी श्रद्धांजलि


भाजपा प्रदेशाध्यक्ष मदन लाल सैनी का सोमवार देरशाम दिल्ली में निधन हो गया। मंगलवार सुबह 7:30 बजे सैनी का पार्थिव देह जयपुर के भाजपा कार्यालय में अंतिम दर्शनों के लिए रखा गया। शाम को सीकर में उनका दाह संस्कार हुआ। बेटे मनोज सैनी ने उन्हें मुखाग्नि दी। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट, मंत्री रघु शर्मा समेत कांग्रेस के तमाम नेता उनके अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे। सैनी के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, पीएम नरेंद्र मोदी सहित कई हस्तियों ने शोक जताया है।

आरएसएस और मजदूर संघ से शुरू की थी राजनीति

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता सतीश पूनिया ने बताया कि सैनी ने 70-80 के दशक में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक साधारण स्वयंसेवक और फिर भारतीय मजदूर संघ के जरिए मदन जी राजस्थान के मजदूरों की आवाज बने। अपनी दृढता के कारण उस समय की भाजपा सरकार से भी मजदूरों के हक में मांगे मनवाई। 1990 से 93 में जब भारतीय जनता पार्टी के विधायक बने तो वे क्षेत्र के लोगों की आवाज बने। भारतीय जनता पार्टी के संगठन में पार्टी के प्रदेश महामंत्री से लेकर किसान मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री तक उनका सफर निष्ठा और कर्मठता के कारण जाना जाएगा। राज्यसभा सांसद तथा प्रदेश अध्यक्ष बने

सभी दलों के नेताओं ने शोक जताया
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष मदन लाल सैनी के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत पक्ष एवं विपक्ष के सभी बड़े नेताओं ने शोक जताया है। भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्ढा, गृह मंत्री अमित शाह ने भी सैनी के निधन पर शोक जताया। राज्यपाल कल्याण सिंह, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट, विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने सैनी के निधन पर शोक जताया है।