राज्य सरकार जनता की आशाओं पर पूरी तरह खरी उतरी  -देवस्थान राज्य मंत्री



जयपुर। जिले के प्रभारी मंत्री एवं देवस्थान राज्य मंत्री राजकुमार रिणवां ने कहा है कि राज्य सरकार ने चार वर्षो के कार्यकाल में प्रदेश का सर्वांगीण एवं चहुंमुखी विकास किया है। आम सेवाओं से लेकर कोई भी ऎसा क्षेत्र नही है जो विकास से अछूता रहा है। राज्य सरकार ने पूर्ण संवेदनशीलता के साथ हर वर्ग को विकास की मुख्य धारा से जोड़ने का प्रयास किया है।
उन्होंने सोमवार को श्री कल्याण राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय सीकर के खेल मैदान प्रथम पर राज्य सरकार के चार वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर आयोजित विकासात्मक जिला प्रदर्शनी के शुभारंभ के मौके पर आयोजित समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का प्रयास विकास को अंतिम पंक्ति में बैठे व्यक्ति तक पहुंचाना है और इसके लिए हम सभी मिलकर हर संभव प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि हम सभी मिलकर जिले के विकास को आगे बढायें एवं राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाकर आमजन को लाभान्वित करने में सहयोग देवें। उन्होंने चार वर्ष में जिले में हुए विकास को अभूतपूर्व उपलब्धि बताया। उन्होंने प्रदर्शनी के स्टॉलों मंज विभागीय प्रदर्शनी में विकास कार्यो का संबंधित अधिकारियों से जानकारी प्राप्त की।
विशिष्ट अतिथि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री बंशीधर खण्डेला ने इस अवसर पर कहा कि राज्य सरकार ने चिकित्सा, शिक्षा, कृषि, विद्युत, सड़क सहित विभिन्न क्षेत्रों में विकास के नये सौपान स्थापित किए है। राज्य सरकार ने पण्डित दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना में प्रत्येक गांव ढाणी तक विद्युत पहुंचाने का कार्य किया। सोलर ऊर्जा से हर घर में विद्युत पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे के एमजेएसए अभियान में जल संरक्षण कार्य होने से भूजल स्तर में वृद्वि होगी। उपभोक्ताओं को पोस मशीन से राशन वितरण होने से इसमें पारदर्शिता रहेगी तथा उपभोक्ता को उसका हक स्वयं प्राप्त होगा। राज्य सरकार ने भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना में जिले के 15 सरकारी व 36 निजी अस्पतालों को योजना का लाभ देने के लिए अधिकृत किया है। जिले में 7 हजार 873 परिवारों को लाभान्वित करने के साथ ही 36.44 करोड रूपये की राशि व्यय की गई है। उन्होंने कहा कि विद्यालयों में तीन लाख 30 हजार बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण करवाकर हार्ट डिजीज गंभीर बीमारियों का निःशुल्क इलाज किया गया है। राजश्री योजना में बच्ची के जन्म पर 50 हजार रूपये की राशि तीन किश्तों में उसके खाते में सीधे ही जमा करवाई जाती है। जिलें में 30 आदर्श पीएचसी स्थापित किए गए है वहां चिकित्सा की सभी सुविधाए रोगियों को मिल रही है। जिला मुख्यालय पर जनाना अस्पताल खोला गया है, पिपराली में 5 करोड़ रूपये की लागत से जी.एन.एम. सेन्टर स्थापित किया गया है, सीएचसी थोई में 2 करोड़ 58 लाख रूपये की लागत से निर्माण कार्य, रींगस में 2 करोड़ रूपये की राशि ट्रोमा सेन्टर के लिए स्वीकृत की गई है। उन्होंने कहा कि शिक्षा में लेपटॉप लेने वाला तथा श्रमिक कार्ड प्राप्त करने वाला सीकर जिला प्रथम स्थान पर है। किसान की दुर्घटना में मुत्यु होने पर किसान की 6 लाख रूपये का बीमा दिया जाता है जिसे राज्य सरकार 10 लाख रूपये तक करने का प्रयास कर रही है। राज्य सरकार राजकीय चिकित्सालयों में  एंजियोग्राफी की निःशुल्क सुविधा शुरू करने वाली है।
सीकर विधायक रतन लाल जलधारी ने कार्यक्रम में कहा कि राज्य सरकार की भामाशाह योजना, अन्नपूर्णा रसोई, अन्नपूर्णा भण्डार, राजश्री योजना सहित अन्य जन कल्याणकारी योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार करें ताकि गांव-ढाणी में बैठे लोग इससे लाभान्वित हो सके। उन्होंने केन्द्र सरकार की स्वच्छ भारत मिशन, उज्जवला योजना, बेटी बचाओं, बेटी पढाओं योजना का लाभ आमजन तक पहुंचाने का आहवान किया।
धोद विधायक गोर्वधन वर्मा ने अपने उद्बोधन में कहा कि राज्य सरकार ने किसानों को गुणवत्ता की विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए 80 करोड़ रूपये के ऋण में से 60 करोड़ रूपये वहन किए है। राज्य सरकार विकास कार्यो में प्रगति के पथ पर निरन्तर अग्रसर हो रही है। भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना में गरीब का 30 हजार रूपये से 3 लाख रूपये तक निःशुल्क उपचार किया जा रहा है।