छात्रों को मार्कशीट और डिग्री सम्बन्धी परेशानी से मिली मुक्ति



जयपुर। राजस्थान विश्वविद्यालय से जुड़े छात्रोँ को अब उनकी परीक्षाओं की मार्कशीट, डिग्रियां और अन्य दस्तावेज नेशनल एकेड़मिक डिपोजटरी (एनएडी) के डिजिटल माध्यम से मिलेंगे। छात्रों को मिलने वाली इस बड़ी राहत के बाद मार्कशीट के डुप्लीकेट या प्रमाणित कॉपी पाने के लिए औपचारिक प्रक्रिया से नहीं गुजरना पड़ेगा। इस संबंध में शुक्रवार को विश्वविद्यालय और एनएडी के बीच हुए समझौते को लागू कर दिया गया है।

इस दौरान कुलपति प्रोफेसर आर.के कोठारी वहां मौजूद थे। उनकी मौजूदगी में कुलसचिव और एनएडी के बीच समझौते पर हस्ताक्षर हुए। इस प्रक्रिया के तहत 2017 से ही छात्रों के दस्तावेज इसी माध्यम से उपलब्ध होंगे। छात्र के दस्तावेजों को किसी अन्य संस्थान द्वारा प्राप्त करने से पहले छात्र की स्वीकृति जरूरी होगी। राजस्थान विश्वविद्यालय की ओर से इस सुविधा को और बेहतर बनाने के लिए एक नोडल सेंटर बनाया गया है जिसमें परीक्षा नियंत्रक की देखरेख में यह सभी काम होंगे।